कैबिनेट मंत्री इसराइल मंसूरी के द्वारा विष्णुपद मंदिर में दर्शन के बाद 21 आचार्यों ने मंदिर का किया ‘शुद्धिकरण’

बिहार के गया स्थित विश्व प्रसिद्ध विष्णुपद मंदिर में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ गैर हिन्दू मंत्री के प्रवेश के बाद बुधवार को मंदिर का शुद्धिकरण किया गया। इस दौरान पूरे मंदिर परिसर को गंगा जल से धुलवाया गया और शुद्धिकरण किया गया। विशेष पूजा व दुग्ध अभिषेक वैदिक रीति से संपन्न कराया गया। विष्णुपद मंदिर प्रबंध कारिणी समिति के अध्यक्ष शंभूलाल विट्ठल एवं पंडा समाज के लोगों द्वारा मंदिर में शुद्धिकरण पूजा की गई।

शंभूलाल विट्ठल ने बताया कि मंदिर के गर्भगृह में विष्णु चरण के पास बैठकर पूरे विधि-विधान के साथ शुद्धिकरण पूजा संपन्न की गई। इस दौरान मंदिर परिसर को गंगा जल से धोया गया। उन्होंने बताया कि दो दिन पूर्व मुख्यमंत्री नीतीश कुमार विष्णुपद मंदिर पहुंचे थे, जिनके साथ बिहार के सूचना एवं प्रौद्योगिकी मंत्री मोहम्मद इसराइल मंसूरी भी मंदिर के गर्भगृह तक पहुंच गए थे। विष्णुपद मंदिर में अहिंदू (गैर हिन्दू) प्रवेश निषेध है।

IMG 20220723 WA0098

उन्होंने कहा कि गैर हिन्दू प्रवेश से हिन्दुओं को भावनाएं आहत हुई हैं तथा तरह-तरह की बातें हो रही थीं। इसी को ध्यान में रखते हुए आज मंदिर परिसर के अंदर शुद्धीकरण पूजा की गई है। उन्होंने बताया कि विशेष उपचार पूजा व दुग्ध अभिषेक, पंचामृत स्नान और तुलसी अर्चना के साथ शुद्धिकरण किया गया है, साथ ही पूरे मंदिर को गंगा जल से धोया गया है।

IMG 20220728 WA0089

इस पूजा में करीब 21 पुरोहित और ब्राह्मण, आचार्य शामिल हुए। उन्होंने कहा कि भगवान से प्रार्थना की गई कि भूल से अगर हमारे या हमारे समाज के तरफ से कोई गलती हो गई हो तो उसे क्षमा करें और विश्व का कल्याण करें।

IMG 20220713 WA0033

IMG 20211012 WA0017JPCS3 011IMG 20220413 WA0091Picsart 22 07 13 18 14 31 808IMG 20220813 WA0041IMG 20220331 WA0074