समस्तीपुर सदर अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में अज्ञात व विक्षिप्त मरीजों के साथ रहते हैं सामान्य मरीज

IMG 20221030 WA0023

व्हाट्सएप पर हमसे जुड़े 

समस्तीपुर :- समस्तीपुर सदर अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में सामान्य मरीजों के साथ ही अज्ञात व विक्षिप्त मरीजों को भर्ती कर इलाज किया जाता है। इससे सामान्य मरीजों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। जिसकी वजह से कुछ मरीज आने के साथ ही रेफर करवा दूसरे अस्पताल में चले जाते हैं जबकि गरीब मरीजों को मजबूरी में वार्ड में रह कर परेशानी उठानी पड़ती है।

इसके बावजूद विक्षिप्त व अज्ञात मरीजों के इलाज के लिए अस्पताल में अब तक अलग से कोई वार्ड नहीं बनाया गया है। जबकि राज्य सरकार के मिशन 60 में अलग वार्ड बनाने का भी प्रावधान शामिल है। मिशन 60 के क्रियान्वयन की समीक्षा बैठक में भी डीएम योगेंद्र सिंह ने विक्षिप्त व अज्ञात मरीजों के लिए अलग वार्ड की व्यवस्था करने का आदेश दिया था। लेकिन उस पर अब तक अमल नहीं किया जा सका है।

Banner 03 01

वहीं मिशन 60 का समय भी पूरा हो चुका है। ऐसे में अलग से वार्ड की व्यवस्था के अभाव में इमरजेंसी वार्ड में ही अज्ञात व विक्षिप्त मरीज को रखा जाता है। इमरजेंसी वार्ड में इलाज कराने वाले मरीजों का कहना है कि विक्षिप्त व अज्ञात मरीज बेड पर ही गंदगी कर देते हैं। उसकी समय पर सफाई नहीं की जाती है जिससे उसकी बदबूं से उनका वार्ड में रहना मुश्किल हो जाता है। मानसिक स्थिति ठीक नहीं होने के कारण ऐसे मरीज को अपनी कोई सुध भी नहीं रहती है। जिसके कारण वे बेड पर ही नित्यक्रिया भी करते रहते हैं।

IMG 20220728 WA0089

1 840x760 1

IMG 20211012 WA0017

JPCS3 01

IMG 20221017 WA0000 01

IMG 20221117 WA0070 01

IMG 20221115 WA0005 01

Post 183

20201015 075150

Leave a Reply

Your email address will not be published.