पटना के सोना कारोबारी का कर्मी ही निकला लूटकांड का मास्टरमाइंड, प्रेमिका का घर बनवाने के लिए की थी लूट

शादीशुदा होने के बाद भी एक अपराधी को दूसरी लड़की से इश्क हो गया। वो प्यार में इस कदर पागल हो गया कि प्रेमिका की जरूरतों को पूरा करने के लिए जिस कारोबारी के यहां काम करता था, उसी को अपने साथियों के साथ मिलकर लूट लिया। वह प्रेमिका का घर बनवा रहा था। रुपयों की कमी पड़ी तो मालिक को ही लूट लिया।

मामला राजधानी पटना के पीरबहोर थाना का है। दरअसल, बात एक महीने पुरानी है। 19 नवंबर को पटना में बाकरगंज के सोना के थोक कारोबारी रंजन कुमार से हथियार के बल पर अपराधियों ने 16 लाख 50 हजार 500 रुपए लूट लिया था।

IMG 20221030 WA0023

वारदात के बाद सोना कारोबारी को अपराधियों ने काफी डरा दिया था। इस कारण दो दिनों तक पुलिस के पास वो गए भी नहीं। बाद में पुलिस को जब जानकारी हुई तो समझाने के बाद 21 नवंबर को पीरबहोर थाना में FIR दर्ज हुआ। अब रविवार को पटना के SSP मानवजीत सिंह ढिल्लो ने पीरबहोर थाना में प्रेस कांफ्रेंस कर इस कैश लूट कांड का खुलासा किया। इस केस में कुल 4 अपराधी पकड़े गए हैं। इसमें जितेंद्र, गौरव कुमार, अमन कुमार और अभिषेक कुमार शामिल हैं। जबकि, एक अपराधी बजरंगी कुमार पहले से जेल में है। उसने कोर्ट में खुद को सरेंडर कर दिया था।

IMG 20220728 WA0089

पटना में बनवा रहा था घर

SSP ने बताया कि गिरफ्तार किया गया जितेंद्र नाम का अपराधी पहले से शादीशुदा है। इसके बाद भी दूसरी लड़की से उसका अफेयर चल रहा था। गर्लफ्रेंड को रुपयों की जरूरत थी। उसके लिए पटना में ही एक जगह पर मकान बनवाकर दे रहा था। इसके लिए ही उसे रुपयों की जरूरत थी। इसीलिए इसने अपने मालिक को ही टारगेट किया।

IMG 20221203 WA0079 01

बाकी तीन अपराधियों को भी रुपयों की जरूरत थी। ऑनलाइन गेसिंग खेलने के कारण इनका काफी रुपया डूब चुका था। इसलिए सभी एक जुट हुए। फिर मिलकर प्लान बनाया। इसमें गौरव और बजरंगी रिश्तेदार हैं। इन सभी ने मिलकर एक बड़ी साजिश रची। कांड को अंजाम देने के लिए कारोबारी की तीन दिनों तक रेकी की। कारोबारी के आने-जाने का टाइम पता किया। फिर रात में वारदात को अंजाम दिया था।

JPCS3 01

ब्लाइंड केस का इस तरह से हुआ खुलासा

SSP के अनुसार पुलिस के सामने यह एक ब्लाइंड केस था। इस कारण कारोबारी से उनके यहां काम करने वालों की जानकारी हासिल की गई। तभी पता चला कि नटराज गली के रहने वाले जितेंद्र ने करीब दो महीने पहले ही नौकरी छोड़ी थी। शक के आधार पर सबसे पहले इसी को पकड़ा गया। जब इससे पूछताछ उसने सबकुछ उगल दिया। पुलिस ने इसके ठिकाने से लूट के 3.20 लाख कैश बरामद किए।

IMG 20211012 WA0017

जितेंद्र की निशानदेही पर नटराज गली में ही किराए पर रहने वाले गौरव कुमार, कंकड़बाग के पोस्टल पार्क के रामविलास चौक के रहने वाले अमन कुमार और जक्कनपुर थाना के तहत पोस्टल पार्क रोड नंबर 4 के रहने वाले अभिषेक कुमार को पकड़ा। इनके ठिकानों से लूट के बाकी के रुपए 13 लाख 30 हजार 500 को बरामद किया। इन अपराधियों के पास से लूट के रुपयों से खरीदे गए एक एप्पल फोन, एक सोने की अंगूठी, कैश वाले बैग और वारदात को अंजाम देने के लिए इस्तेमाल किए गए दो बाइक व एक स्कूटी को बरामद कर जब्त किया गया है। इस मामले में जेल में बंद बजरंगी कुमार को पूछताछ के लिए रिमांड पर लिया जाएगा।

1 840x760 1IMG 20221130 WA0095Samastipur News Page Design 1 scaledIMG 20221203 WA0074 01Post 183

Leave a Reply

Your email address will not be published.