समस्तीपुर जंक्शन पर अज्ञात शव रखने वाला फ्रीज खराब, शव की बदबू से यात्री व कर्मी परेशान

IMG 20220723 WA0098

व्हाट्सएप पर हमसे जुड़े

समस्तीपुर :- समस्तीपुर जंक्शन पर खुले में अज्ञात शव को रखने के कारण बदबू फैलने से यात्रियों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ हो रहा है। इसके साथ ही ड्यूटी पर आने वाले रेल कर्मियों को भी परेशानी हो रही है। अज्ञात शव को पहचान के लिए 72 घंटा तक रखने वाला फ्रीज खराब है। इस समस्या की वजह से आसपास का वातावरण दूषित हो रहा है।

ऐसा नहीं है कि इस समस्या से अधिकारी अनजान हो, लेकिन कोई सुधि नहीं ले रहा है। उन्हें इस बात की चिता नहीं है कि गर्मी में शव को रखने के लिए फ्रिज की सबसे अधिक जरूरत पड़ती है। जानकारी के अनुसार राजकीय रेल पुलिस थाना अंतर्गत हमेशा शव का आना जाना लगा रहता है। कई बार शवों की संख्या बढ़ जाती है। इस समय गर्मी इतनी हो रही है कि शव कुछ ही घंटों में खराब होने की संभावना बन जाती है। काफी दिनों से फ्रीज खराब होने के कारण शवों को कमरे में ही रखा जा रहा है।

IMG 20220810 WA0048

फ्रीज खराब होने से आलम यह बना हुआ है कि शव रखने वाले जगह के आसपास का वातावरण दूषित हो रहा है। आने-जाने वाले लोग मुंह पर हाथ और रुमाल रखने को मजबूर हो रहे हैं। पार्सल कार्यालय में मुंह पर रुमाल रखकर कर्मी ड्यूटी कर रहे है। अत्यधिक बदबू की वजह से कुछ महिला यात्रियों की तबीयत भी बिगड़ गई।

IMG 20220728 WA0089

अंगारघाट में ट्रेन से गिरने से हुई थी मौत :

जंक्शन के प्लेटफार्म संख्या एक के समीप रेलवे न्यायालय के सामने अज्ञात शव रखने का स्थान निर्धारित है। जहां पर रेल पुल के नीचे एक कक्ष बनाकर शव रखने का स्थान निर्धारित किया गया था। विदित हो कि गुरुवार को समस्तीपुर-खगड़िया रेलखंड के अंगारघाट स्टेशन के समीप अज्ञात ट्रेन से गिरकर एक अधेड़ की मौत हो गई थी।

शव की पहचान नहीं होने के कारण रेल पुलिस द्वारा शव का पोस्टमार्टम कराने के उपरांत शव को सुरक्षित रखा गया है, लेकिन फ्रीज खराब होने की वजह से शव को खुले में रखा गया है। इस वजह से शव से बदबू निकल रही है। स्टेशन परिसर में यात्रियों के साथ-साथ पुलिस अधिकारी व जवानों को अत्यधिक परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

Sticker Final 01

IMG 20220713 WA0033

IMG 20220802 WA0120

IMG 20211012 WA0017

JPCS3 01

Picsart 22 07 13 18 14 31 808

IMG 20220331 WA0074

Advertise your business with samastipur town