JDU के देवेश चन्द्र ठाकुर होंगे बिहार विधान परिषद के सभापति, सीएम नीतीश और राबड़ी देवी ने साथ आकर दिया बड़ा संदेश

सीएम नीतीश कुमार की पार्टी जदयू एमएलसी देवेश चन्द्र ठाकुर ने आज विधान परिषद के सभापति के लिए नामांकन किया है. विधान परिषद के सचिव के समक्ष देवेश चन्द्र ठाकुर ने नामांकन किया. इस दौरान सीएम नीतीश कुमार, पूर्व सीएम राबड़ी देवी, उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव, मंत्री विजय चौधरी समेत महागठबंधन के कई नेता मौजूद रहे. देवेश चन्द्र ठाकुर तिरहुत स्नातक निर्वाचन क्षेत्र से वर्ष 2002 से चुनाव जीतते रहे हैं. संख्या बल के हिसाब से सदन में जदयू सबसे बड़ा दल है.

विधान परिषद के कार्यकारी सभापति के पद पर बीजेपी के विधान पार्षद अवधेश नारायण सिंह कामकाज देख रहें हैं. महागठबंधन की सरकार के गठन के बाद आरजेडी कोटे से विधानसभा अध्यक्ष और जेडेयू कोटे से विधान परिषद सभापति बनाने पर सहमित हुई है. इसके बाद आज जेडीयू ने देवेश चंद्र ठाकुर को विधान परिषद सभापति के लिए नाम फाइनल कर दिया. जिसके बाद आज उन्होंने नामांकन दाखिल किया है. देवेश चंद्र ठाकुर नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली सरकार में आपदा प्रबंधन मंत्री रह चुके हैं. 2020 में वह जदयू प्रत्याशी के रूप में तिरहुत स्नातक निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव जीतकर आए.

IMG 20220723 WA0098

बता दें कि अभी बीजेपी के अवधेश नारायण सिंह विधान परिषद के सभापति हैं. एनडीए सरकार में बीजेपी के अवधेश नारायण सिंह को यह जिम्मेदारी सौंपी गई थी. राज्य में इसी महीने सरकार बदल गई. नीतीश कुमार के जदयू ने लालू प्रसाद यादव के राष्ट्रीय जनता दल (राजद) से हाथ मिला लिया. राज्य में महागठबंधन की नई सरकार बन गई. कैबिनेट विस्तार के बाद से ही महत्वपूर्ण पदों को लेकर चर्चाएं चलने लगीं थी. अब बिहार विधान परिषद के सभापति का नाम साफ हो गया है.

IMG 20220728 WA0089IMG 20220713 WA0033

IMG 20220810 WA0048JPCS3 01IMG 20211012 WA00171IMG 20220802 WA0120Picsart 22 07 13 18 14 31 808IMG 20220331 WA0074