बिहार के थानों में फरियादियों को मिलेंगी ये सारी सुविधाएं, 441 थानों में तो काम भी हो गया है पूरा…

IMG 20220723 WA0098

व्हाट्सएप पर हमसे जुड़े 

राज्य के 70 प्रतिशत पुलिस थानों में आगंतुक कक्ष (Visitors Room) का निर्माण पूरा हो गया है। थानों में फरियादियों के लिए 660 नए आगंतुक कक्ष का निर्माण किया जा रहा है, जहां उनके बैठकर इंतजार करने और आवेदन लिखने आदि की सुविधा दी जाएगी। अगस्त माह की रिपोर्ट के अनुसार, अभी तक 660 में 441 आगंतुक कक्ष का काम भवन और फर्नीचर सहित पूरा हो गया है। वहीं 219 थानों में आगंतुक कक्ष का निर्माण कार्य अधूरा है।

गृह विभाग ने की समीक्षा बैठक :

गृह विभाग ने पिछले दिनों हुई समीक्षा बैठक में शेष बचे आगंतुक कक्षों के निर्माण में तेजी लाने का निर्देश दिया है। इसके लिए बिहार पुलिस भवन निर्माण निगम के महानिदेशक सह अध्यक्ष विनय कुमार को अपने स्तर से समीक्षा कर अगली बैठक में प्रगति रिपोर्ट देने को कहा है। गृह विभाग की रिपोर्ट के अनुसार, करीब 19 थानों में भवन कार्य पूरा कर लिया गया है, जबकि फर्नीचर का काम बाकी है। इसके अलावा 68 में फिनिशिंग स्तर और 59 में छत की ढलाई का काम पूरा हो चुका है।

IMG 20220728 WA0089

जमीन के कारण अटका कई जगह काम :

आठ थानों में प्लिंथ और 36 में नींव स्तर का काम पूरा हुआ है। करीब एक दर्जन आगंतुक कक्ष का निर्माण जमीन उपलब्ध नहीं होने के कारण अटका है। इस दिशा में भी जल्द जमीन उपलब्ध कराने को कहा गया है। इसके अलावा सात आगंतुक कक्षों का निर्माण कार्य शुरू होना है। मालूम हो कि नए थाना भवनों में पहले से आगंतुक कक्ष का प्रविधान किया जा रहा है। पुराने थाना भवनों में आगंतुक कक्ष बनाए जा रहे हैं।

JPCS3 01

चलंत दस्ता सिपाहियों को मिलेगी विशेष ट्रेनिंग :

परिवहन विभाग में नवनियुक्त 347 चलंत दस्ता सिपाहियों को नवंबर से विशेष प्रशिक्षण दिया जाएगा। सभी सिपाहियों को यातायात और परिवहन के साथ प्रबंधन से जुड़ा प्रशिक्षण भी मिलेगा ताकि वह कुशलतापूर्वक अपने कर्तव्य निभा सकें। इसके लिए प्रबंधन संस्थानों की भी मदद ली जाएगी। विभाग ने इससे जुड़ा प्रस्ताव तैयार किया है, जिस पर जल्द सहमति मिल सकती है।

राज्य में चलंत दस्ता सिपाहियों से सड़क सुरक्षा के साथ जागरूकता कार्यक्रमों में मदद ली जाएगी। इसके अलावा राज्य में हजारों वाहन मालिक डिफाल्टर हैं, इन पर कार्रवाई में भी इनकी प्रमुख भूमिका होगी। अभी तक के प्रस्ताव के अनुसार, चलंत दस्ता सिपाहियों को डिफाल्टरों की सूची दी जाएगी जो उनके घर तक जाकर बकाया टैक्स आदि जमा कराने की कार्रवाई में सहयोग करेंगे।

IMG 20211012 WA0017

IMG 20220802 WA0120

IMG 20220713 WA0033

Picsart 22 07 13 18 14 31 808

IMG 20220810 WA0048

Sticker Final 01

IMG 20220331 WA0074

Advertise your business with samastipur town