बिहार में नए और पुराने हाइवे के लिए 7000 करोड़ रुपए मिले, नितिन गडकरी ने खुद दी ये जानकारी

केंद्र ने बिहार के लिए 3,054 करोड़ रुपये की नई सड़क योजनाओं को स्वीकृति प्रदान की है। ये योजनाएं उस श्रेणी की हैैं, जिनका क्रियान्वयन पथ निर्माण विभाग के एनएच डिवीजन के माध्यम से होना है। इसके अतिरिक्त पूर्व से एनएचएआइ की देखरेख में चलने वाली योजनाओं के लिए 3,953.44 करोड़ रुपये स्वीकृत किए गए हैैं। सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने शुक्रवार को ट्वीट कर इस आशय की जानकारी दी। इस स्वीकृति के लिए पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन ने केंद्रीय मंत्री के आभार प्रकट किया है।

पथ निर्माण विभाग की इन योजनाओं के लिए स्वीकृति

पथ निर्माण विभाग के एनएच डिवीजन की देखरेख में चल रही योजनाओं के तहत 240.198 किमी के लिए 3,054.36 करोड़ रुपए की मंजूरी मिली है। इनमें जंदाहा बाईपास, एम्स-नौबतपुर सड़क, रोसड़ा-दरभंगा, अमदाबाद-मनिहारी, एनएच-101, 104, 120 आदि शामिल है। यह राशि इस मायने में महत्वपूर्ण है कि पथ निर्माण विभाग के एनएच डिवीजन ने 385 किमी सड़क की निविदा का लक्ष्य शत प्रतिशत हासिल कर लिया है।

IMG 20210828 WA0061

एनएचएआइ की देखरेख में बन रही सड़कों के लिए इस तरह आवंटन

आमस-दरभंगा एक्सप्रेस वे के बलभद्रपुर से बेला नवादा सेक्शन (एनएच-119 डी) के लिए 2,185.75 करोड़ रुपये की स्वीकृति प्रदान की गयी है। धार्मिक कारिडोर के तहत उमगांव जंक्शन के समीप हटवारिया से कुलआही तक, बिशेश्वर स्थान से भेजा दो लेन में सड़क निर्माण के लिए 1,473.20 करोड़ रुपये की स्वीकृति दी गयी है।

IMG 20220211 221512 618IMG 20220215 WA0068

चार लेन बाइपास के लिए 295 करोड़

सारण जिले में एनएच-19 पर छपरा-मांझी खंड में रिविलगंज फोरलेन बाइपास के लिए 295.24 करोड़ रुपये की स्वीकृति दी गई है। आपको बता दें कि बिहार में नेशनल हाइवे की योजनाओं को हाल के दिनों में काफी गति मिली है। पटना- गया- डोभी, पटना-आरा- बक्‍सर और छपरा-मुजफ्फरपुर समेत अन्‍य सड़कों के निर्माण में तेजी आई है।

IMG 20210821 WA0008IMG 20220331 WA0074IMG 20211031 WA0072 01IMG 20211024 WA0080IMG 20211012 WA0017