बिहार के जमुई में सोना और लोहा के बाद ‘काला हीरा’ का मिला भंडार! प्रशासन अलर्ट

बिहार के लिए अच्‍छी खबर है. सोने और लोहे का भंडार मिलने के बाद अब जमुई जिले में कोयले का विपुल भंडार होने की संभावना बढ़ गई है. सरकारी हैंडपंप के लिए बोरिंग का काम चल रहा था. 50 फीट तक पाइप जाने के बाद कोयले का अंश आने लगा. कोयला निकलने के बाद ग्रामीण और स्‍थानीय प्रशासन भी हैरान रह गया. इससे जमीन के अंदर कोयले का भंडार होने की संभावना है. बता दें कि जमुई में सोने और लोहे का भंडार मिलने की बात सामने आ चुकी है. अब जमीन के अंदर कोयले का भंडार होने की संभावना सामने आने के बाद प्रशासन भी अलर्ट हो गया है.

जिले में सोना और लोहा के बाद जमीन के अंदर कोयले की खान होने की संभावना है. जमुई के बरहट प्रखंड के भट्ठा गांव में सरकारी चापाकल की बोरिंग के दौरान बड़ी मात्रा में कोयले का अंश निकला है. इसके बाद गांव वालों में चर्चा होने लगी है कि यहां जमीन के अंदर कोयले का भंडार है. भट्टा गांव में पानी की परेशानी को लेकर पीएचईडी विभाग बोरिंग करवा रहा था. बताया जा रहा है कि 50 फीट के बाद ही कोयले का अंश मिलना शुरू हो गया.

IMG 20220723 WA0098

क्‍या कहते हैं ग्रामीण?

पानी की परेशानी से निजात दिलाने के लिए रविवार को हैंडपंप के लिए बोरिंग का काम शुरू किया गया. लगभग 50 फीट के बाद काला पत्थर और कोयले जैसी चीज बड़ी मात्रा में निकलना शुरू हो गया. गांव वालों का कहना है कि इस गांव में जब भी बोरिंग किया गया है तो इसी तरह से कोयला का अंश निकला है. गांव के लोग इसकी जांच की मांग करने लगे हैं.

IMG 20220728 WA0089

भट्टा गांव के सादे कोड़ा ने बताया कि गांव में जब भी चापानल के लिए बोरिंग हुआ तब यही देखने को मिला है. 40 से 50 फीट की गहराई से कोयला मिलना शुरू हो जाता है. ग्रामीणों को पूरा भरोसा है कि जमीन के अंदर कोयला है. यही बात भट्टा के पड़ोसी ललमटिया गांव के प्रमोद चौधरी ने भी कही. ग्रामीणों का कहना है कि बोरिंग के दौरान निकला मलवा में कोयले ही है. ग्रामीणों का कहना है कि इसे जलाने का प्रयास किया गया तो वह ठीक कोयले की तरह जलता है.

IMG 20220828 WA0028

प्रशासन अलर्ट

बताते चलें कि साल 2007-08 में इसी इलाके में कोयले की संभावना को लेकर जिला प्रशासन ने सर्वे का काम शुरू कराया था, लेकिन वह अधूरा रह गया. अब एक बार फिर जब बोरिंग के दौरान कोयले का अंश मिलने की बात सामने आई तो प्रशासन सतर्क हो गया है. डीएम अवनीश कुमार सिंह ने बताया कि जिले में कई जगहों पर खनिज संसाधन मिलने के मामले सामने आए हैं. जमुई जिले के विभिन्न क्षेत्रों में जमीन के अंदर कई तरह के खनिज हैं. भट्टा गांव में बोरिंग के दौरान कोयला मिलने के मामले में संबंधित विभाग के अधिकारी से बात की जा रही है. कोयले की संभावना को देखते विभाग को निर्देशित कर इसकी जांच करवाई जाएगी.

IMG 20220810 WA0048JPCS3 01IMG 20211012 WA0017IMG 20220829 WA00061Picsart 22 07 13 18 14 31 808IMG 20220331 WA0074