समस्तीपुर निवासी मनोज कुमार राय समेत बिहार के 2 IPS और 5 पुलिस अधिकारियों को केंद्र सरकार करेगी सम्मानित

देश में बेहतर काम करने वाले अधिकारियों और आईपीएस को केंद्रीय गृह मंत्री पदक से सम्मानित करने के लिए चयनित किया गया है. इसमें समस्तीपुर जिले के मोहनपुर प्रखंड अंतर्गत धरणीपट्टी पश्चिमी पंचायत के हरदासपुर निवासी सब इंस्पेक्टर मनोज कुमार राय को उत्कृष्ट अनुसंधान पदक के लिए चयनित किया गया है.

उन्हें यह पदक भारत सरकार के गृह मंत्रालय की ओर से आगामी पुलिस दिवस के अवसर पर प्रदान किया जाएगा. यह पदक उन्हें पटना जिला के शास्त्रीनगर थाना में थाना कांड संख्या- 23/21 के अन्तर्गत इंडिगो स्टेशन मास्टर रूपेश सिंह हत्याकांड के समूचित अनुसंधान के लिए मिलेगा. उक्त पदक एसआई श्री राय के साथ भारत के विभिन्न राज्यों के 151 पुलिस पदाधिकारियों को दिया जाएगा. इसमें से बिहार से सात शामिल हैं. इसकी जानकारी भारत सरकार के गृह मंत्रालय के पुलिस डिविजन के द्वारा संबंधित अधिकारियों को दी गई है.

IMG 20220723 WA0098

ज्ञातव्य हो कि मनोज के पिता योगेंद्र राय सेवानिवृत थल सैनिक है. उन्होंने भी अपने कार्यकाल में सेना के दो मेडल प्राप्त किए थे. मनोज मैट्रिक तक की पढ़ाई श्री शंकर उच्च विद्यालय रसलपुर में करने के बाद उच्च शिक्षा की पढ़ाई समस्तीपुर कालेज समस्तीपुर से करके 2009 बैच में सब इंस्पेक्टर के रूप में चयनित हुए थे.

IMG 20220728 WA0089

दो आईपीएस अधिकारियों के साथ दो इंस्पेक्टर और तीन सब इंस्पेक्टर शामिल :

देश में बेहतर काम करने वाले अधिकारियों और आईपीएस को केंद्रीय गृह मंत्री पदक से सम्मानित करने के लिए चयनित किया गया है. इसमें बिहार के दो आईपीएस अधिकारियों के साथ दो इंस्पेक्टर और तीन सब इंस्पेक्टर शामिल हैं. क्राइम की घटनाओं में बेहतरीन काम करने के लिए देश में अधिकारियों को ये सम्मान दिया जाता है. इन नामों की घोषणा शुक्रवार को की गयी है. इस लिस्ट में देशभर के के पुलिस अधिकारी, सीबीआई, एनआईए और एनसीबी के अधिकारियों व अफसरों के नाम शामिल हैं.

IMG 20220713 WA0033

नाबालिग से गैंगरेप और हत्या मामले की जांच में सायली को मिलेगा सम्मान :

आईपीएस सायसी सावलाराम धूरत को केंद्रीय गृह मंत्री पदक अररिया में नाबालिग से गैंगरेप और हत्या मामले को सुलझाने के लिए दिया जा रहा है. सायसी सावलाराम 2010 बैच की आईपीएस अधिकारी हैं. वर्तमान में पटना में डायल 112 की एसपी एडमिन हैं. जिस घटना के लिए उन्हें सम्मानित किया जा रहा है वो घटना 2019 में घटी थी. मामले में नाबालिग के साथ गैंग रेप करके उसकी हत्या कर दी गयी थी. इसके बाद उसकी लाश को फेंक दिया गया था. उस वक्त सायली अररिया की एसपी थी. उन्होंने इस ब्लाइंड केस में तेजी से जांच करते हुए चार लोगों को गिरफ्तार किया था. साथ ही, सभी सजा कोर्ट से दिलवायी.

IMG 20220802 WA0120

विनय तिवारी ने इंडिगो के मैनेजर की हत्याकांड की जांच की :

वर्ष 2021 में इंडिगो एयरलाइंस कंपनी के एक मैनेजर की हत्या उनके घर के बाहर गोली मारकर कर दी गयी. इस वारदात ने पूरे राज्य में सनसंनी मचा दी. जब ये घटना हुई विनय तिवारी पटना के सिटी एसपी सेंट्रल थे. इसी दिन शास्त्रीनगर थाना की कमान इंस्पेक्टर रामाशंकर सिंह ने संभाला था. केस की जांच के लिए स्पेशल टीम बनायी गयी. इसे विनय तिवारी लीड कर रहे थे. इसमें इस स्पेशल टीम में इंस्पेक्टर रामशंकर सिंह, पटना पुलिस के स्पेशल सेल के इंस्पेक्टर विनय प्रकाश, सब इंस्पेक्टर मनोज कुमार राय, मो. चांद परवेज और मो. गुलाम मुस्तफा शामिल थे। टीम ने बेहतरीन जांच करते हुए अपराधियों को जल्द पकड़कर जेल में डाल दिया. इसके लिए उन्हें ये सम्मान दिया जा रहा है.

Picsart 22 07 13 18 14 31 808JPCS3 01Sticker Final 01IMG 20211012 WA0017IMG 20220810 WA0048IMG 20220331 WA0074