BJP नेता ह’त्याकांड मामले में खानपुर थानाध्यक्ष के लाइन हाजिर होने के बाद SP ने बिपिन कुमार को बनाया थानेदार

advertisement krishna hospital 2

व्हाट्सएप पर हमसे जुड़े 

समस्तीपुर :- समस्तीपुर जिले के खानपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत सिरोपट्टी गांव में बीते शनिवार की रात बेखौफ अपराधियों द्वारा स्वर्ण व्यवसायी व भाजपा जिला कार्यसमिति के सदस्य व मंडल प्रभारी रघुवीर कुमार स्वर्णकार उर्फ नाथू साह की गोली मारकर हत्या किए जाने के मामले में खानपुर थानाध्यक्ष दिल कुमार भारती को लाइन हाजिर कर दिया गया था जिसके बाद उनके जगह पर बिपिन कुमार को खानपुर थानाध्यक्ष बनाया गया है। इससे पहले सब इंस्पेक्टर बिपिन कुमार रोसड़ा थाना में तैनात थे। पुलिस अधीक्षक ह्रदयकांत के आदेश पर बिपिन कुमार को खानपुर थाना की कमान सौंपी गई है। नवपदस्थापित थानाध्यक्ष के लिए हत्या की गुत्थी सुलझाना चुनौतीपूर्ण होगा।

हत्याकांड में अब तक पुलिस को कोई सुराग नहीं :

स्वर्ण व्यवसाई रघुवीर स्वर्णकार हत्याकांड में दूसरे दिन भी पुलिस को कोई सुराग हाथ नहीं लगा है। परिवार के लोग इस घटना को रघुवीर के दामाद शशि रंजन पर कोचिंग पर गत वर्ष 10 अगस्त को हुए मारपीट व फायरिंग मामले से जोड़कर देख रहे हैं। परिवार के लोगों का कहना है कि उस घटना के बाद परिवार के लोगों को किसी से विवाद नहीं हुआ।

इस घटना में शामिल लोगों पर शक इस बात को लेकर भी है की आरोपियों ने जेल जाने से पूर्व कहा था कि जेल से निकलने पर बदला लेंगे। वहीं समाचार लिखे जाने तक देर शाम भी हत्याकांड को लेकर प्राथमिकी दर्ज नहीं हो पाई।

IMG 20220728 WA0089

वहीं समस्तीपुर टाउन न्यूज को एसपी हृदय कांत ने बताया कि स्वर्ण व्यवसाई हत्याकांड में मुख्यालय डीएसपी अमित कुमार के नेतृत्व में एसआईटी का गठन किया गया है। पुलिस घटना के अलग-अलग बिंदुओं पर जांच कर रही है। जल्द ही मामले का खुलासा कर लिया जाएगा। परिजनों ने तत्कालीन थानाध्यक्ष पर बदमाशों को बचाने का आरोप लगाया है। आरोप है कि अभियुक्तों से मिलकर उन्होंने कोचिंग विवाद मामले में काउंटर केस करवाया। इसमें नालंदा में पदस्थापित स्वर्ण व्यवसाई के पुत्र डॉ. राजेंद्र कुमार को भी आरोपी बना दिया गया था। इसके बाद केस में संधी के लिए दबाव बनाया गया था। इसमें संधी भी हो गई थी। 30 अगस्त को इस मामले पर कोर्ट में कार्रवाई होनी थी, लेकिन उससे पहले उनकी हत्या हो गई।

JPCS3 01

दुकान बंद कर घर लौटने के क्रम में हत्या :

घटना उस समय हुई जब रघुवीर अपनी दुकान बंद कर वापस घर लौट रहे थे। इस दौरान बचाने आए उनके कर्मी दिलीप कुमार भी जख्मी हो गए थे। घटना के संबंध में बताया गया है कि स्वर्ण व्यवसाई रघुवीर शनिवार की देर शाम करीब 8 बजे अपनी दुकान बंद कर वापस लौट रहे थे। इसी दौरान सिरोपट्टी गांव के पास पूर्व से घात लगाए बाइक सवार चार की संख्या में बदमाशों ने उन्हें रोका और गोली मारकर फरार हो गए।

घटना को अंजाम देने के बाद बदमाश इलमासनगर की ओर फरार हो गए। गोली की आवाज पर जुटे लोगों ने स्वर्ण व्यवसाई को सदर अस्पताल में भर्ती कराया जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। वहीं जख्मी दिलीप का शहर के एक निजी अस्पताल में उपचार कराया जा रहा है।

IMG 20220828 WA0028

1

IMG 20211012 WA0017

Picsart 22 07 13 18 14 31 808

IMG 20220829 WA0006

IMG 20220810 WA0048

IMG 20220331 WA0074

Advertise your business with samastipur town