लोकसभा चुनाव की तैयारियां तेज, बदल सकता है पोलिंग बूथ, 17 अक्टूबर को वोटर लिस्ट चेक कर लें… 

IMG 20221030 WA0004

व्हाट्सएप पर हमसे जुड़े 

अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए बिहार में राज्य निर्वाचन आयोग ने तैयारियां तेज कर दी है। शनिवार को राज्य निर्वाचन पदाधिकारी (सीईओ) एचआर श्रीनिवास ने सभी जिलों के डीएम समेत चुनाव से जुड़े दूसरे अधिकारियों के साथ मीटिंग की और अब तक के काम की समीक्षा की।

सीईओ श्रीनिवास ने सभी डीएम से चुनाव आयोग के नए दिशा-निर्देश के मुताबिक मतदान केंद्रों का प्रस्ताव बनाकर जल्दी भेजने कहा है। सीईओ ने कम वोटिंग परसेंट वाले इलाकों में वोटर जागरूकता अभियान चलाने भी कहा है। आयोग ने अब एक मतदान केंद्र पर वोटरों की अधिकतम संख्या 1000 से बढ़ाकर 1500 कर दी है जिसके आधार पर पोलिंग बूथ के लिए वोटर लिस्ट तैयार होगा। इस वजह से बहुत सारे वोटरों का मतदान केंद्र बदल जाएगा।

Teachers Day page 0001 1

IMG 20230604 105636 460

मीटिंग में मतदाता सूची को अपडेट करने, 100 साल से अधिक उम्र के मतदाताओं की फील्ड विजिट करके पुष्टि करने के निर्देश भी दिए गए हैं। कोविड के समय मतदान केंद्र पर मतदाताओं की अधिकतम संख्या 1000 वोटर कर दी गई थी जिसे अब वापस 1500 कर दिया गया है। इस वजह से वोटर के लिए पोलिंग बूथ बदल भी सकता है। लोकसभा चुनाव के लिए मतदाता सूची का ड्राफ्ट 17 अक्टूबर को जारी हो जाएगा जिस पर दावा और आपत्ति के लिए 30 नवंबर तक का समय होगा। इसके बाद वोटर लिस्ट को अंतिम रूप दे दिया जाएगा।

IMG 20230701 WA0080

सीईओ ने डीएम से कहा है कि हर हाल में मृत लोगों का नाम वोटर लिस्ट से हटाना सुनिश्चित किया जाए। कुछ समय पहले आयोग ने 100 साल से अधिक उम्र के वोटरों का एक सर्वे कराया था जिसमें वोटर लिस्ट में दर्ज इससे अधिक उम्र के 35000 मतदाताओं में 17000 ही मिले थे। जनवरी में अपडेटेड वोटर लिस्ट के हिसाब से राज्य में कुल 7.58 करोड़ वोटर हैं जिनमें 3.97 करोड़ पुरुष, 3.60 करोड़ औरत और 2418 ट्रांसजेंडर मतदाता है।

IMG 20230324 WA0187 01

IMG 20230728 WA0094 01

IMG 20230818 WA0018 02

IMG 20230620 WA0060

IMG 20230416 WA0006 01

20201015 075150