सावधान! प्रीपेड बिजली मीटर का बैलेंस जीरो हो जाए तो फोन आने पर पेमेंट मत करना, विभाग ने बताया कारण

साइबर ठग आए दिन फ्रॉड के नए-नए तरीके ढूंढ रहे हैं। बिहार में अब बिजली काटने के नाम पर एसएमएस भेज उपभोक्ताओं से पैसे वसूले जा रहे है। अचानक आए मैसेज को देख कई लोग बिजली कटने के डर नंबर पर कॉल करके पेमेंट कर देते हैं। और फिर साइबर फ्रॉड का शिकार बन जाते हैं। साइबर ठग अक्सर रात में मैसेज कर बिल जमा न होने के कारण बिजली काटने की धमकी देते हैं। इस तरह के मामले सामने आने के बाद अब ऊर्जा विभाग के प्रधान सचिव सह बिजली कंपनी के सीएमडी संजीव हंस ने उपोभक्ताों से सतर्क रहने की अपील की है।

उन्होने बताया कि स्मार्ट प्रीपेड बिजली मीटर में बैलेंस शून्य होने पर भी रात में बिजली नहीं काटी जाती है। इसलिए उपभोक्ताओं को किसी के झांसे में आने की जरूरत नहीं है। संजीव हंस ने बताया कि हाल के दिनों में बिजली उपभोक्ताओं को साइबर अपराधियों द्वारा बिजली काटने के नाम पर एसएमएस भेज कर उनसे पैसे ठगे जा रहे हैं। साइबर अपराधी अक्सर देर शाम में उपभोक्ताओं को मैसेज भेजकर बिल जमा न होने के कारण रात में उनकी बिजली काटने की धमकी देते हैं। बिजली कटने की बात जानने के बाद कई लोग नंबर पर कॉल कर पेमेंट कर दे रहे हैं जिससे वे साइबर फ्रॉड के शिकार हो रहे हैं। उपभोक्ता इस तरह की हरकतों से सावधान व सतर्क रहें। किसी भी मैसेज में दिए गए नंबर पर कॉल ना करें।

IMG 20220723 WA0098

आपको बता दें राज्य में 18 लाख प्री-पेड मीटर लगे हैं, बिहार अब स्मार्ट प्री-पेड मीटर लगाने में देश का अग्रणी राज्य बन गया है। ओसीआर बिलिंग और स्मार्ट प्री-पेड मीटर को अपनाकर बिलिंग त्रुटियों में कमी आई है। लेकिन स्मार्ट मीटर के नाम पर साइबर ठगी भी बढ़ी है। जिसके चलते बिजली विभाग ने उपभोक्ताओं को अलर्ट किया है।

15 August1 page 0001 1IMG 20230604 105636 460

IMG 20230818 WA0018 02IMG 20230728 WA0094 01IMG 20230701 WA0080IMG 20230324 WA0187 01IMG 20230620 WA0060IMG 20230416 WA0006 01