बिहार: शिक्षकों की नियुक्ति के दौरान 8000 पद खाली, मंत्री विजय चौधरी ने बताई वजह

व्हाट्सएप पर हमसे जुड़े 

बिहार में पंचायत स्तर के शिक्षकों की नियुक्ति (Bihar Teachers Job) के दौरान रिक्त पड़े 8000 से अधिक शिक्षकों के पद खाली होने पर बिहार के शिक्षा मंत्री विजय चौधरी (Vijay Chaudhari) ने कहा है कि यह स्वाभाविक है. यह बात कोई अप्रत्याशित नहीं है, यह अनुमान पहले से ही था क्योंकि अभ्यार्थियों को छूट है एक साथ वह कई नियोजन इकाइयों में आवेदन डाल सकते हैं.

मंत्री ने कहा कि अपनी मर्जी से जहां अभ्यार्थियों को सहूलियत होती है, वह वहां पर अपने को उपस्थित कराते हैं. किसी ने 50 जगह आवेदन किया है और किसी एक जगह उपस्थित हुआ तो 49 जगह अनुपस्थित रहेगा. उन्होंने कहा कि यही वजह है कि नियोजन इकाई में यह जो रिक्तियां हैं खाली रह गई हैं जो स्वभाविक है.

advertisement krishna hospital 2

शिक्षा मंत्री ने इस बारे में यह भी कहा कि जैसे ही यह राउंड पूरा होगा फिर विभाग इसकी समीक्षा करेगा और जो रिक्तियां रह जायेंगी उसे दूर किया जाएगा. उन्होंने कहा कि दूसरे राउंड में काउंसिल करा कर नियोजन का काम पूरा करने का प्रयास किया जाएगा अगर उसके बाद में रिक्तियां खाली होती तो दूसरा उपाय भी सोचा जाएगा.

विजय चौधरी ने कहा कि जो नियोजन हो रहा है उस में गड़बड़ी करने की कोशिश की गई थी जो कि विभाग के सिस्टम बता दिया, इसलिए कोई भी गड़बड़ करेगा तो पता चल जाएगा. पंचायत स्तर के जो भी थे उन्होंने यह गड़बड़ी किया था जो पता चल गया. नियोजन की प्रक्रिया जहां भी गड़बड़ी की आशंका थी, वहां रोक दी गई है फिर तो उसकी समीक्षा की जाएगी जो सही होगा वही होगा.

Advertisement Pathsala educators

इस मामले में विपक्ष के द्वारा निशाना साधे जाने पर शिक्षा मंत्री ने कहा हम विपक्ष को आमंत्रित करते हैं. खुले मन से विपक्ष इस मामले में सरकार के साथ चाहे तो चर्चा कर सकती है. उन्होंने कहा कि गड़बड़ी का एक-दो केस भी अगर विपक्ष वाले लाते हैं, तो सरकार उनके इस काम के लिए उपकृत होगी और हम विभाग की तरफ से उनका एहसान मानेंगे.

Advertisement siksha kunj

Avinash Roy

Editor-in-Chief at Samastipur Town Web Portal