शहर के काशीपुर में कोरोना मरीज मिलने के बाद इस गली को किया गया सील, प्रशासन ने घोषित किया कंटेनमेंट जोन 

समस्तीपुर :- देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर अपना कहर बरपा रही है। देश में दैनिक मामलों को लेकर पिछले सभी रिकॉर्ड ध्वस्त होते जा रहे हैं। गुरुवार को रिकॉर्ड 1.26 लाख से भी ज्यादा नए मरीज मिले। महाराष्ट्र, पंजाब, गुजरात, मध्यप्रदेश और दिल्ली में हालात चिंताजनक हैं। वहीं समस्तीपुर जिला भी इसकी चपेट में तेजी से आ रहा है। हर रोज दर्जनों मरीज मिल रहे है। जिले के विभिन्न क्षेत्रों में इन दिनों कोरोना काफी तेजी से अपना पांव पसार रहा है। लगातार जिले से के अलग-अलग क्षेत्रों से पॉजिटिव की संख्या में तेजी आ गई है।

शहर के काशीपुर आरएसबी इंटर स्कूल (केई इंटर स्कूल) रोड में एक गली को कंटेनमेंट जोन घोषित करते हुए जिला प्रशासन ने सील कर दिया है। शहर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। बावजूद लोग सतर्क नहीं हो रहे है।

krishna hospital samastipur bihar ADVERTISEMENT

वहीं आज कचहरी परिसर में एसबीआई की मुख्य शाखा में एक महिला कर्मी के कोरोना पॉजिटिव मिलने के कारण बैंक को बंद करना पड़ा। जिले के एसबीआई के मुख्य ब्रांच में महिला कर्मी के पॉजिटिव होने से शाखा प्रबंधक ने बैंक को बंद कर सभी कर्मियों का कोविड जांच कराया गया। इस दौरान करोड़ों का लेन-देन प्रभावित रहा। वहीं शाखा प्रबंधक मनोज कुमार का बताना है कि एक कर्मी पॉजिटिव पाई गई है उसी को देखते हुए और सभी कर्मियों का कोविड टेस्ट कराया गया है जिस वजह से आज बैंक का काम प्रभावित हुआ और उसे बंद करना पड़ा

बिना कोई जांच के हो जाता है रजिस्ट्रेशन, फिर लगती वैक्सीन

शहर से तीन किलोमीटर दूर जितवारपुर स्थित समस्तीपुर कॉलेज समस्तीपुर परिसर में वैक्सीनेशन को लेकर कैंप लगाया गया है। कैंप के मुख्य द्वार पर रजिस्ट्रेशन के लिए काउंटर लगाया गया है। रजिस्ट्रेशन होने के बाद लोग सीधा वैक्सीनेशन सेंटर में जाकर टीका ले लेते हैं। कैंप के अंदर आने वाले लोगों की कोई जांच नहीं होती।

स्टेशन पर कोरोना जांच की खानापूर्ति हो रही है

स्टेशन पर कोरोना जांच की खाना पूर्ति हो रही है। स्टेशन पर इन दिनों 50 ट्रेनें आती और जाती हैं। इन ट्रेनों से छह से सात हजार लोग उतरते हैं। ऐसी स्थिति में अधिकतर लोग बिना जांच के ही घरों को चले जाते हैं। बुधवार को पटना-जयनगर से करीब 500 यात्री उतरे। ट्रेन से उतरने वाले लोग इधर-उधर से निकल गए।

Avinash Roy

Editor-in-Chief at Samastipur Town Web Portal