समस्तीपुर में अब टाइप-ए और नॉन टाइप-ए श्रेणियों में बंटेंगे प्रवासी, जानें कौन सब होगें ‘होम क्वारंटाइन

समस्तीपुर:- गैर प्रांतों से जिले में आ रहे प्रवासियों को अब दो भागों में विभक्त किया जाएगा। टाइप ए शहर सूरत, अहमदाबाद, मुंबई, पुणे, दिल्ली, कोलकाता और बेंगलूरु के प्रवासियों को क्वारंटाइन कैंप में रखा जाएगा। वहीं, नॉन टाइप ए शहर से आनेवाले लोगों को स्क्रीनिग कर होम क्वारंटाइन के लिए भेज दिया जाएगा।

इससे पूर्व यह सुनिश्चित किया जाएगा कि टाइप ए और नॉन टाइप ए शहर से आने वाले लोग एक दूसरे के संपर्क नहीं हों। यदि दोनों के बीच संपर्क हुआ तो उन्हें क्वारंटाइप कैंप में आवासित किया जाएगा।

प्रखंड स्तर पर बने स्क्रीनिग केंद्र को चिह्नित कर यह कार्य प्रारंभ कर दिया गया है। शुक्रवार को समाहरणालय सभाकक्ष में प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए जिला लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी सह कोरोना कंफर्म कोषांग के वरीय पदाधिकारी राजीव रंजन सिन्हा ने बताया कि प्रखंड व पंचायत स्तरीय कैंप चालू रहेंगे।

krishna hospital samastipur bihar

गैर प्रांतों से आ रहे नए लोगों के लिए प्रखंड स्तर पर स्क्रीनिग केंद्र बनाए गए हैं। लक्षण वाले लोगों को कैंप में 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन किया जाएगा और बिना लक्षण वाले लोगों को होम क्वारंटाइन किया जाएगा।

इससे पूर्व सभी का रजिस्ट्रेशन किया जाएगा। कैंप में सूखे राशन की व्यवस्था की गई है। उन्होंने बताया कि गैर प्रांतों से आ रहे जिले के सभी क्वारंटाइन कैंप प्रखंड स्तरीय कैंप के स्तर पर चलाए जाएंगे। यहां पुलिस द्वारा कड़ी सुरक्षा व्यवस्था रहेगी। इन केंद्रों पर आवासित व्यक्तियों के अनुपात से शौचालय की व्यवस्था की जाएगी।

आवासितों के ससमय भोजन, पेयजल, साफ-सफाई और शौचालय की व्यवस्था क्वारंटाइन कैंप के प्रभारी सुनिश्चित करेंगे। पंचायत स्तर पर क्वारंटाइन कैंप में रह रहे आवासितों की जांच कर होम क्वारंटाइन किया जाएगा।

प्रखंड स्तरीय केंद्रों में टाइप ए और टाइप बी शहर से आने वाले लोगों के लिए अलग-अलग रजिस्ट्रेशन की सुविधा है। यहां न्यूनतम 300 लोगों को बैठने की व्यवस्था होगी। रजिस्ट्रेशन काउंटर पर लोगों का नाम, पता, फोन नंबर, बैंक खाता संख्या, आधार कार्ड संख्या लिया जाएगा।

पंजीकरण के लिए फोटोग्राफ लेने की व्यवस्था उपलब्ध है। जिन लोगों का बैंक अकाउंट नहीं है उनके लिए बैंक व पोस्ट ऑफिस के कर्मी आवासित लोगों का खाता खोलने में सहयोग करेंगे।अनाउंसमेंट व होर्डिंग के माध्यम से जानकारी दी जाएगी। रजिस्ट्रेशन कैंप की जिम्मेदारी प्रखंड विकास पदाधिकारी व क्वारंटाइन कैंप की जिम्मेदारी अंचलाधिकारी को दी गई है।

Avinash Roy

Chief in Editor at Samastipur Town Web Portal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *