समस्तीपुर रेलवे चिकित्सालय बना कोरोना मरीजों के लिए विशेष अस्पताल

समस्तीपुर:- कोरोना वायरस संक्रमण से जूझने के लिए पूर्व मध्य रेलवे ने चार रेलवे चिकित्सालय का चयन किया है। इसमें केवल कोविड- 19 के मरीज का इलाज होगा। साथ ही उसके बचाव के लिए विशेष तैयारी होगी।

चयनित अस्पतालों में समस्तीपुर रेलमंडल चिकित्सालय और सोनपुर मंडल के गड़हाड़ा चिकित्सालय के अलावा दानापुर और पंडित दीनदयाल उपाध्याय स्टेशन का चिकित्सालय भी शामिल है।

इन चिकित्सालयों में कोविड-19 मरीजों के लिए कुल 219 बेड तैयार किए गए हैं। इसका प्रयोग केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय तथा गृह मंत्रालय के दिशा निर्देश के अनुसार किया जाएगा।

krishna hospital samastipur bihar ADVERTISEMENT

इसके तहत समस्तीपुर में 60 बेड, दानापुर मंडल में 80 बेड, दीनदयाल उपाध्याय में 60 बेड तथा गड़हाड़ा रेलवे चिकित्सालय में 19 बेड विशेष रूप से तैयार किए गए हैं। इन सभी अस्पतालों में प्राथमिकता के आधार पर चिकित्सा उपकरण भी उपलब्ध कराए जा रहे हैं।

इसमें चिकित्सा उपकरण, वेंटिलेटर, मास्क आदि के साथ-साथ हाथों को साफ रखने वाले सैनिटाइजर भी शामिल है। इन अस्पतालों के चिकित्सक व नर्सो को भी 269 पीपीई ड्रेस उपलब्ध कराए गए हैं।

रेलवे अस्पताल में नहीं होगा अन्य रेलकर्मियों का इलाज

पूर्व मध्य रेलवे के महाप्रबंधक द्वारा मंडल रेलवे अस्पताल को कोविड अस्पताल घोषित करने के बाद अब यहां किसी भी बीमारी का इलाज नहीं हो पाएगा।

ये भी पढ़े: समस्तीपुर के डीएम ने बेगूसराय सीमा को सील किए जाने के बाद किया निरीक्षण

कोई भी बीमारी रेलकर्मी, या सेवानिवृत्त रेलकर्मी या उनके परिजन अब इस अस्पताल में अपना इलाज नहीं करवा पाएंगे। इसके लिए उन्हें सदर अस्पताल का रूख ही करना पड़ेगा।

वर्जन

समस्तीपुर रेलमंडल मुख्यालय अस्पताल का चयन कोविड-19 अस्पतालों में किया गया है। इस कारण अब यहां रेलकर्मी और उनके परिजन अपना इलाज नहीं करवा पाएंगे। इसके लिए उन्हें सदर अस्पताल का सहारा लेना पड़ेगा।

सरस्वती चंद्र

मीडिया प्रभारी, समस्तीपुर रेल मंडल

Avinash Roy

Editor-in-Chief at Samastipur Town Web Portal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *