लॉकडाउन के बावजूद आंध्र प्रदेश से समस्तीपुर आयी बदबूदार मछलियां

समस्तीपुर:- देश में विश्वव्यापी कोरोना वायरस को रोकने के लिए लॉकडाउन के तहत लोगों के आने-जाने पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा हुआ है। वहीं दूसरी ओर आंध्र प्रदेश से ग्यारह दिन पुरानी और बदबूदार मछलियां मोरवा लायी लाई गई है।

तीन ट्रकों पर लदी मछलियों के पैकेट फटने से सड़ी हुई मछलियों की बदबूं जब फैली तब लोगों को इसकी जानकारी मिली। तीन ट्रकों पर लाई गई मछलियों के चालान के अनुसार 15 मार्च को तीन ट्रकों पर चौदह लाख की चौदह टन मछलियां मुजफ्फरपुर के लिए भेजी गई।

चालान परमिट में अंकित इन ह्वाईट फिश रेहू मछलियों की किसी कारणवश मुजफ्फरपुर में डिलीवरी नहीं हुई। उसके बाद सभी ट्रक खुदनेश्वर कोल्ड स्टोरेज के पहुंची।

krishna hospital samastipur bihar

कोल्ड स्टोरेज में लॉकडाउन के कारण मजदूरों के अभाव में निकसपुर के निकटवर्ती गांवों से दर्जनों मजदूरों को एकत्र किया गया। तीन ट्रकों से मछलियों के उतारे जाने के क्रम में पाया गया कि पैकेटों के फटने से बर्फ के बावजूद बहुत सारी मछलियां सड़ चुकी हैं, जिनसे दुर्गंध निकल रही थी।

इसके बावजूद बदबूदार मछलियों को भी मजदूरों के सहयोग से स्टोर किया गया। विदित हो कि आंध्र प्रदेश से लाई जाने वाली मछलियों को मोरवा एवं सरायरंजन प्रखंड के विभिन्न चौक चौराहों पर अहले सुबह से बेचना शुरू कर दिया जाता है।

15 मार्च को चली इन बदबंूदार मछलियों के ग्यारह दिन बाद गुरुवार को मोरवा होते हुए खुदनेश्वर कोल्ड स्टोरेज में स्टोर कर क्षेत्र में बेचने के लिए सुरक्षित रखा गया है। स्थानीय लोगों ने इसकी सूचना ताजपुर पुलिस को दी है।

व्‍हाट्सएप पर पाएं कोरोना से जुड़े हर सवाल का जवाब

Avinash Roy

Chief in Editor at Samastipur Town Web Portal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *