अब BJP से आर-पार की लड़ाई के मूड में LJP? चिराग बोले- हम अगर वोटकटवा तो 2014 से साथ क्यों रखा

बिहार में विधानसभा चुनाव की सरगर्मियां तेज हो चुकी हैं. आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी जारी है. इस बीच चिराग पासवान ने भारतीय जनता पार्टी (Bhartiya Janta Party) के ‘वोट कटवा’ बयान पर शनिवार को पलटवार किया. ‘आजतक’ की खबर के अनुसार LJP अध्यक्ष चिराग पासवान (Chirag Paswan) ने बीजेपी के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि ‘अगर हम वोट कटवा हैं तो BJP ने 2014 से क्यों साथ रखा है? उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के दबाव में ऐसे बयान दे रही है. उसे अपने विवेक का इस्तेमाल करना चाहिए.

दरअसल, एक दिन पहले भाजपा ने लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के खिलाफ आक्रामक मुद्रा अपनाते हुए उसे न सिर्फ ‘वोट कटवा’ करार दिया था, बल्कि यह भी स्पष्ट किया कि राज्य विधानसभा चुनाव में भगवा पार्टी की कोई ‘बी, सी या डी टीम’ नहीं है. भाजपा नेताओं ने दावा किया कि LJP अपना अस्तित्व बचाने के लिए ‘झूठ और भ्रम’ की राजनीति कर रही है जो सफल नहीं होगी और राजग की दो तिहाई बहुमत से जीत होगी.

बता दें कि पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान द्वारा गठित LJP की कमान अब उनके सांसद पुत्र चिराग पासवान के हाथों में हैं. उन्होंने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अगुवाई वाले जनता दल यूनाइटेड (JDU) से सैद्धांतिक मतभेदों का हवाला देते हुए बिहार में अलग चुनाव लड़ने की घोषणा की है. पासवान केंद्र की राजग सरकार में मंत्री थे और उनकी पार्टी इसका हिस्सा रही है. इसके बावजूद भाजपा नेताओं ने लोजपा पर आज चौतरफा हमला बोला.

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, ‘चिराग पासवान ने बिहार में अपना अलग रास्ता चुना है और वो हमसे अलग होकर चुनाव लड़ रहे हैं. भाजपा के वरिष्ठ नेताओं का नाम लेकर वह भ्रम फैलाने की कोशिश कर रहे हैं. यह झूठी बयानबाजी सफल नहीं होगी.’ उनके इन प्रयासों की निंदा करते हुए जावड़ेकर ने स्पष्ट किया कि बिहार चुनाव में भाजपा की कोई ‘बी, सी या डी टीम’ नहीं है.

उन्होंने कहा, ‘हमारी एक ही मजबूत टीम है और वह है..भाजपा, जद(यू), हिन्दुस्तान अवाम मोर्चा (हम) और विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी). चार दलों का हमारा गठबंधन राजग मजबूती से चुनाव लड़ रहा है. तीन चौथाई बहुमत से विजयी होगी और हम कांग्रेस, राजद और माले के अपवित्र गठबंधन को हराएंगे.’ उन्होंने कहा, ‘चिराग की पार्टी एक वोट कटवा पार्टी रह जाएगी. बहुत ज्यादा असर नहीं नहीं डाल सकेगी चुनाव पर. हम साफ करना चाहते हैं कि दूर-दूर तक हमारा कोई रिश्ता नहीं है. भ्रम की राजनीति हमें पसंद नहीं है.’

बता दें कि बिहार विधानसभा चुनाव तीन चरणों में 28 अक्टूबर (71 सीटों), 3 नवंबर (94 सीटों) और 7 नवंबर (78 सीटों) पर होगा. मतगणना 10 नवंबर को होगी.

Avinash Roy

Editor-in-Chief at Samastipur Town Web Portal