भाजपा को हराने के लिए जदयू की मदद में हर्ज नहीं : RJD

राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह ने कहा है कि भाजपा को परास्त करने के लिए सभी गैर भाजपा दलों को एकजुट होना होगा। राजद का बिहार में अपना जानाधार है पर सभी दलों का साथ जरूरी है। इस काम में कोई कोताही नहीं करना है। लिहाजा जदयू का सहयोग लेने में भी कोई हर्ज नहीं है। मंगलवार को अपने आवास पर पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने यह जानकारी दी।

सिंह ने कहा कि महाराष्ट्र, झारखंड के नतीजों से साफ हो गया है कि गैर भाजपा दलों की एकजुटता से भाजपा के मंसूबों को रोका जा सकता है। लेकिन, महागठबंधन में जदयू के शामिल होने के पूर्व मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को भाजपा का साथ छोड़ना होगा।

नीतीश के आने के बाद अगले सीएम की बाबत पूछे जाने पर कहा कि वे 15 साल सीएम रह चुके हैं। अब नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव को मौका मिलना चाहिए। एक सवाल पर कहा कि महागठबंधन की बैठक में ही समन्वय समिति आदि मामलों पर विमर्श होगा।

उन्होंने बिना राजद प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह का नाम लिए कहा कि महागठबंधन में शामिल सभी छोटे-बड़े दलों का सम्मान होना चाहिए। भाजपा को हराने में उनका सहयोग होगा। ऐसे दलों को ठेस नहीं पहुंचे, इसलिए सभी को अपनी भाषा ठीक रखनी चाहिए। एक सवाल पर उन्होंने जरूर कहा कि राजद प्रदेश अध्यक्ष को कुछ बोलने में आत्मसंयम बरतना चाहिए। आत्मानुशासन होना चाहिए। कहा कि लोकतंत्र में राजद जैसी पार्टी के कामकाज में कोई मिलिट्री शासन थोड़े न रहेगा।

रघुवंश सिंह ने कहा कि वे पांच बार लोकसभा का चुनाव जीत चुके हैं। राज्यसभा जाने के प्रयास की बात महज अफवाह है। पत्रकारों के बीच राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद को लिखे पत्र की प्रतियां जारी की और कहा कि ग्रामीण बूथ व वार्ड स्तरीय बूथ विकास संघर्ष समिति का गठन करके ही संगठन को सरजमीं पर उतारा जा सकता है।

Input: Hindustan

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT

Avinash Roy

Editor-in-Chief at Samastipur Town Web Portal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *