भक्ति रस में डूबे लोग, कल खुलेगा माता रानी का पट

समस्तीपुर:- जिले में नवरात्र अब अपने चरम पर पहुंच गया है। इसको लेकर युद्ध स्तर पर इसकी तैयारी शुरू कर दी गयी है। जिसके कारण अब पूजा पंडाल अपने-अपने आकार में दिखने लगा है। शनिवार को मां दुर्गा का पट खुलने की तैयारी को देखते हुये दिन रात मजदूर पंडाल को अंतिम रुप देने में लगे हैं। पूजा पंडालों के आसपास मेला के लिये भी अस्थायी दूकान बनाने का कार्य भी तेज कर दिया गया है। गुरुवार को श्रद्धाालुओं में नवरात्र के पांचवें स्वरूप में स्कंदमाता की पूजा-अर्चना की। साथ ही शुक्रवार को माता कात्यायनी की पूजा अर्चना की तैयारी शुरु कर दी गयी है। थानेश्वरी दुर्गा मंदिर खानपुर के पंडित दिवाकर मिश्र व विनोद मिश्र ने कहा कि स्कंदमाता की उपासना से सुंदर, संस्कारवान, ईश्वर भक्त, तेजस्वी पुत्र की कामना पूरी होती है। एकाग्र भाव से मन को पवित्र रखकर धूप, दीप, प्रज्जवलित कर पाठ, जाप करना चाहिये। इनकी आराधना से समस्त इच्छाएं पूरी हो जाती है। इधर, जिले के पूजा पंडालों में निगरानी के लिये सीसीटीवी लगाने का निर्देश पूजा समितियों को दिया गया है। ताकि किसी भी तरह की गड़बड़ी नहीं हो पाये।

18 पंडालों में हो रही मां दुर्गा की पूजा:

पूसा प्रखंड में मां दुर्गापूजा पूरी श्रद्घा से जारी है। काफी संख्या में श्रद्घालु घरों में कलश स्थापित कर पूजा-अर्चना कर रहे हैं। वहीं दूसरी ओर प्रखंड के 18 स्थलों पर भव्य पूजा-पंडाल सजाये जा रहे है। इनमें पूसा थाना क्षेत्र में पूसा बाजार काली मंदिर, विवि परिसर स्थित स्टाफ क्लब, गढ़िया चौक, भुसकौल चौक, दिघरा, बथुआ, मोरसंड, बिरौली आदि शामिल हैं। वहीं वैनी ओपी क्षेत्र में थाना के बगल में, ओईनी डीह परिसर समेत अन्य स्थल शामिल हैं। वहीं बंगरा थाना क्षेत्र के कुबौली गांव में एक स्थल पर भव्य पूजा पंडाल व प्रतिमा सजाये जा रहे हैं। जानकारी के अनुसार इस वर्ष प्रखंड के पांच स्थलों पर रावण-बद्य का आयोजन किया जायेगा। जिसमें बथुआ के दो स्थलों पर नौ अक्टूबर को एवं गढ़िया, मोरसंड में आठअक्टूबर को विजयादशमी के दिन रावण वध का आयोजन होगा। मामले की पुष्टि संबंधित पुलिस अधिकारी ने भी की है।

Avinash Roy

Chief in Editor at Samastipur Town Web Portal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *