यक्ष्मा दिवस पर निकाली गई जागरूकता रैली

समस्तीपुर/दलसिंहसराय [Rupak Kaushal] :- विश्व यक्ष्मा दिवस के अवसर पर स्थानीय अनुमंडल अस्पताल परिसर से एक जागरूकता रैली निकाली गई। इनोवेटर्स इन हेल्थ “आहन” एवं अनुमंडलीय अस्पताल की यक्ष्मा इकाई के संयुक्त प्रयास से आयोजित इस रैली को हरी झंडी दिखाकर अनुमंडल पदाधिकारी विष्णुदेव मंडल व अस्पताल उपाधीक्षक डॉ अरुण कुमार ने अस्पताल परिसर से रवाना किया। जो प्रखंड के रामपुर-जलालपुर, लोकनाथपुर, जायज़पट्टी होते हुए 32 नंबर गुमटी, वीआईपी कॉलोनी, प्रखंड कार्यालय होते हुए आहन कार्यालय पर समाप्त हुई।

रैली में सैंकड़ो की संख्या में आहन कार्यकर्ता एवं आशा बहने शामिल थीं। जिनके द्वारा टीबी जैसी खतरनाक बीमारी को लेकर जागरूक करने के उद्देश्य से मुख्य रूप से “टीबी हारेगा, देश जीतेगा”, “जन-जन की है यही पुकार, टीबी मुक्त हो अपना बिहार”, “हम सबने मिलकर ठाना है, समाज से टीबी मिटाना है”, “डॉट्स को अपनाएंगे, टीबी को भगायेंगे”, “स्वस्थ्य बिहार की क्या पहचान, टीबी को जाने हर इंसान”, “टीबी के पूरे इलाज़ का पक्का वादा”, “छह महीने की दवा, टीबी हवा” आदि नारे लगाए जा रहे थे।

वहीं इस अनुमंडल में टीबी जैसी बीमारी के लिए जागरूकता व बेहतर चिकित्सा के प्रति आठ वर्षों से कार्यरत संस्था आहन के ट्रस्टी डॉ मनीष कुमार एवं कोलकाता की द्युति सेन ने बताया कि संस्था वर्तमान में जिले के दस प्रखंडों में कार्यरत है। जिनके कार्यकर्ता पंचायत स्तर पर आशा बहनों के मदद से टीबी पीड़ितों की पहचान कर उन्हें मुफ्त चिकित्सा सहायता प्रदान करते हैं। संस्था का उद्देश्य पूरे विश्व से यक्ष्मा को पूर्ण रूप से समाप्त करना है।

उन्होंने बताया कि दलसिंहसराय में इस संस्था की स्थापना स्थानीय केवटा निवासी उज्ज्वल चौधरी के सहयोग एवं प्रेरणा से टीबी के क्षेत्र में कार्य कर रहे चंडीगढ़ के पंचकूला निवासी डॉ मनीष भारद्वाज एवं जगदीप गंभीर ने वर्ष 2010 में किया था। इसके बाद इस संस्था से कई और लोग जुड़ गए। वर्तमान में शहर के अनुमंडल कार्यालय के समीप इसका कार्यालय स्थापित है जिसके अंतर्गत दलसिंहसराय सहित विद्यापतिनगर, सरायरंजन, उजियारपुर, विभूतिपुर, मोरवा, हसनपुर, माहे सिंघिया, शिवाजीनगर और खानपुर कुल दस प्रखंडों में आरएनटीसीपी के सहयोग से संस्था द्वारा जागरूकता कार्यक्रम चलाया जा रहा है। उन्होंने बताया हमारे इस कार्यक्रम को दिल्ली की प्रजनोपाया फाउंडेशन के द्वारा सहायता मिलती है जिनके सहयोग से टीबी पीड़ितों तक दवा उपलब्ध कराई जाती है। वहीं मरीजों के सेल्फ रिपोर्टिंग द्वारा उनके चिकित्सा का ख्याल भी रखा जाता है।

जागरूकता रैली में इनके अलावा मुख्य रूप से आहन कार्यक्रम के प्रबंधन की तरफ से पटना के प्रोफेसर राजेश्वर मिश्रा, होमाम खान व सूर्य प्रकाश राय, उड़ीसा के पीताम्बर सोरेन, गया के सुनील कुमार एवं केरल के अभिजीथ परमेश्वरन ने भाग लिया। वहीं अनुमंडलीय अस्पताल यक्ष्मा इकाई के महेश प्रसाद और अरविन्द कुमार, प्रबंधक पूर्नेंदू कुमार और फार्मासिस्ट आबिद हुसैन के अलावे संस्था के कार्यकर्त्ता अमरनाथ चौधरी, रंजीत कुमार, मिथिलेश कुमार, रविशंकर, राजकुमार, मीता देवी, अमित कुमार, सुनील, मोहम्मद सिद्दीक, रेणु कुमारी, बेबी चाँद, किरण कुमारी, श्वेतांजली झा, कृष्णा कुमारी, रूबी देवी सहित अन्य ने रैली में भाग लिया।

समस्तीपुर टाउन संवाददाता रूपक कौशल की रिपोर्ट

Related posts

Leave a Comment