“नीतीश कुमार गांजा पीकर मस्त रहते हैं और कुछ भी बोलते हैं”, मुकेश सहनी ने दिया विवादित बयान

एवंसन ऑफ मल्लाह मुकेश सहनी ने सीएम नीतीश कुमार को लेकर विवादित बयान दिया है। राज्य भवन मार्च के दौरान मुकेश सहनी ने कहा कि माननीय मुख्यमंत्री जी गांजा पीकर सो जाते हैं और हर रोज सुबह उठकर किसी ना किसी को अपमानित करते हैं। पहले उन्होंने उपेंद्र कुशवाहा को अपमानित किया था और मुझे रोड छाप बोलकर अपमानित किया है। हम मांग करते हैं सीएम नीतीश कुमार निषाद समाज से माफी मांगे।

बताते चले कि एनडीए सरकार के कामकाज, नीतियों और राज्य की कानून-व्यवस्था को खराब बताते हुए गुरुवार की दोपहर में महागठबंधन के नेताओं ने पटना के आयकर गोलंबर से राजभवन मार्च निकाला। मार्च में राजद, कांग्रेस, हम और विकासशील इंसान पार्टी (वीआइपी), लोजद और समाजवादी पार्टी के नेता शामिल हुए। पुलिस ने हड़ताली मोड़ के पास महागठबंधन के काफिले को रोक दिया।

वहां से महागठबंधन के प्रतिनिधियाें को राजभवन ले जाया गया। वहां राज्यपाल से मिलकर प्रतिनिधिमंडल ने उन्हें ज्ञापन सौंपा। राज्यपाल ने इस पर संज्ञान लेते हुए सभी मांगों पर विचार का आश्वासन दिया। राज्यपाल से मिलने वाले प्रतिनिधिमंडल में राजद के प्रदेश अध्यक्ष डाॅ रामचंद्र पूर्वे, प्रदेश उपाध्यक्ष डाॅ तनवीर हसन, कांग्रेस के कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष श्याम सुन्दर सिंह धीरज और अबिदुर रहमान, रालोसपा के सत्यानंद प्रसाद दांगी और राजेश यादव, लोजद के रमई राम और बीनू यादव, सपा के देवेंद्र प्रसाद यादव और रामधनी सिंह, वीआइपी के मुकेश सहनी और किशुन चौधरी, हम के डाॅ दानिश रिजवान और विजय यादव के साथ भाई वीरेंद्र, शिवचंद्र राम, शक्ति सिंह यादव, राजेन्द्र राम, प्रो चंद्रशेखर आदि शामिल थे।

Related posts

Leave a Comment