अंगारघाट मे गोली लगने से जख्मी किशोर के चचेरे भाई ने ही चलाई थी गोली

समस्तीपुर:- अंगारघाट थाना क्षेत्र के सुपौल गांव में बुधवार की शाम पैर में गोली लगने से जख्मी हुए किशोर के बयान को पुलिस संदेहास्पद मान रही है। प्राथमिकी दर्ज करने से पहले विभिन्न पहलुओं की जांच करने की बात पुलिस कह रही है। जख्मी किशोर सुपौल निवासी भाग्यनारायण राय का 16 वर्षीय पुत्र रजनीश कुमार ने पुलिस के समक्ष बयान देते हुए बताया कि वह गांव के किराना दुकान से सब्जी खरीदकर घर लौट रहा था। इसी दौरान किसी ने उसके उपर गोली चला दी। जिससे वह जख्मी हो गया।

उधर, घटना के बाद प्रथम दृष्टया पुलिस की जांच में जानकारी मिली कि उसी गांव में एक दरवाजे पर अलाव सेंकते हुए किशोर अपने चचेरे भाई पंकज कुमार के साथ पिस्तौल लेकर आपस में बात कर रहे था। इसी क्रम में अचानक फायरिंग हो गई और उक्त किशोर जख्मी हो गया।

थानाध्यक्ष आफताब हुसैन ने बताया कि जख्मी किशोर ने अपने पिता के दवाब में आकर असली आरोपित का नाम नहीं बताया तथा घटना की मनगढ़ंत कहानी रची। जबकि उसके चचेरे भाई पंकज कुमार ने ही बातोंबात में गोली चला दी। जिससे वह जख्मी हो गया। दुबारा बयान लिया गया जिसमें आरोपी का नाम सामने आ गया है। शीघ्र ही गिरफ्तार कर लिया जायेगा।

बता दें कि बुधवार की शाम उक्त किशोर रजनीश कुमार के दायें पैर में गोली लगने से जख्मी हो जाने के बाद समस्तीपुर के एक निजी अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया था। जहां उसका इलाज जारी है। गुरुवार को दिन भर इस गोलीकांड की चर्चा आसपास के ग्रामीणों में होती रही। लोगों में इसको लेकर तरह-तरह की चर्चाएं की जा रही है।

Input: Danik Jagran

Related posts

Leave a Comment