नीतीश ने नोटबंदी पर दिया साथ तो प्रधानमंत्री मोदी ने मान ली नीतीश की यह सबसे बड़ी मांग…

prime-minister-narendra-modi-interacts-with-bihar-395224

नीतीश और मोदी के रिश्तों में दोस्ती की सुगबुगाहट दिखने लगी है. हालांकि यह बस नीतीश और मोदी द्वारा एक दुसरे के मुद्दों को समर्थन पर आधारित है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने नोटबंदी का समर्थन कर एक और जहाँ पुरे विपक्ष को कमजोड़ कर दिया था वहीं पीएम मोदी से आग्रह किया था कि नोटबंदी से ही कालेधन पर लगाम नहीं लगेगा इसके लिए बेनामी संपत्ति पर भी लगाम लगाने की जरूरत है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को नीतीश की बात याद थी और आज मन की बात में नीतीश के बात का समर्थन कर दिया. पीएम मोदी ने अपने मन की बात में कहा कि नोटबंदी के बाद अब अगला टारगेट बेनामी संपत्ति पर लगाम लगाने की है. हालाँकि नीतीश ने 30 दिसंबर के बाद नोटबंदी पर अपने समर्थन की समीक्षा की बात भी कही थी. यह भी कहा था कि वह नोटबंदी का समर्थन करते है लेकिन उनका बस इतना ही कहना है कि केंद्र सरकार ने इसके लिए पूरी तैयारी नहीं की थी और इसे आनन-फानन में लागू कर दिया गया.

नीतीश के बार बार बेनामी सम्पति पर चोट की बात को मोदी ने समर्थन करते हुए कहा कि नाेटबंदी के बाद देश मेंं डिजिटल ट्रांजेक्शन में 200 से 300 प्रतिशत का इजाफा हुआ है. अब बेनामी संपत्ति के खिलाफ अभियान चलेगा. इसके लिए पुराने कानून को और सख्त किया जा रहा है. जल्द ही यह कानून अपना काम शुरु करेगा. पीएम ने कहा, जनता सरकार के फैसले के साथ है. कालेधन के खिलाफ छापेमारी और इतनी मात्रा में कालेधन की बरामदगी जनता से मिल रही जानकारी की बदौलत संभव हुई है.

Related posts

Leave a Comment