UN ने 21 दिन के लॉकडाउन को बताया बढ़िया कदम, मोदी सरकार की तारीफ की

संयुक्त राष्ट्र (UN) ने कोरोना वायरस (Coronavirus) के खिलाफ मोदी सरकार (Narendra Modi) की पहल की तारीफ की है और उनके प्रति समर्थन जाहिर किया है.

UN के अलावा WHO ने भी मोदी सरकार के 21 दिन के लॉकडाउन (21 days Lockdown) के कदम को ‘व्यापक और मजबूत’ बताया है और पीएम मोदी के राष्ट्र के नाम संदेश और सरकार द्वारा उठाए जा रहे क़दमों की तारीफ की है.

यूनाइटेड नेशंस न्यूज ने मंगलवार को ट्वीट किया, ‘संयुक्त राष्ट्र कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में भारत के साथ एकजुटता से खड़ा है.’ शेयर किए गए वीडियो में रविवार को भारत में लगाए गए ‘जनता कर्फ्यू’ की भी तारीफ की गई है और कहा गया है कि ऐसे समय में जब सोशल डिस्टेंसिंग बेहद ज़रूरी है, सरकार का ये कदम काबिले तारीफ है. यूएन न्यूज के वीडियो में रविवार को कई खाली सड़कों और शहरी इलाकों की तस्वीरें भी दिखाई गईं.

krishna hospital samastipur bihar ADVERTISEMENT

21 दिन के बंद को बताया मजबूत कदम

यूएन न्यूज ने कहा ‘भारत में कोविड-19 वैश्विक महामारी को रोकने के लिए 21 दिन का बंद है. संयुक्त राष्ट्र की स्वास्थ्य एजेंसी डब्ल्यूएचओ सरकार से ‘आक्रामक कार्रवाई’ करने का अनुरोध करती है.’

भारत में डब्ल्यूएचओ के प्रतिनिधि हेंक बेकेडम ने वैश्विक महामारी से निपटने में देश के प्रयासों की प्रशंसा करते हुए इसे ‘व्यापक और मजबूत’ बताया. उन्होंने कहा, ‘बीमारी को रोकने के लिए निगरानी, प्रयोगशाला की क्षमता मजबूत करने समेत बड़ी कोशिशें की गई.’ उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की सामाजिक दूरी बनाने की अपील को देशभर में काफी समर्थन मिला.

पीएम मोदी ने लॉकडाउन के बाद ट्वीट कर दिलाया भरोसा

बता दें कि मंगलवार को देशव्यापी लॉकडाउन की घोषणा के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर देशवासियों से नहीं घबराने की अपील भी की थी. पीएम ने ट्वीट कर कहा कि जरूरी सेवाओं और दवाएं मिलती रहेंगी. प्रधानमंत्री ने कहा, “मेरे देशवासियों, घबराने की बिल्कुल भी जरूरत नहीं है, जरूरी सेवाएं, दवाएं वगैरह उपलब्ध रहेंगी.

केंद्र और सभी राज्य सरकारें एक साथ मिलकर काम करेंगी ताकि लोगों को जरूरी चीजें मिलती रहे. हम लोग एक साथ मिलकर कोविड-19 के खिलाफ लड़ेंगे और एक तंदुरुस्त भारत का निर्माण करेंगे. जय हिंद.”

Avinash Roy

Chief in Editor at Samastipur Town Web Portal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *