CoronaVirus: SBI की बेहतरीन पहल- बैंकों में अब सैनिटाइज्ड नोट, लेनदेन में बरती जा रही सतर्कता

CoronaVirus कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए एसबीआइ ने बड़ी पहल की है। अब बैंकों में सैनिटाइज्ड नोट दिए जा रहे हैं इसके साथ ही लेनदेन में भी सतर्कता बरती जा रही है…

समस्तीपुर [अजय पांडेय] :- कोरोना वायरस को लेकर बेहद सतर्कता और सावधानी बरती जा रही। किसी भी स्तर से चूक न हो, इसका ध्यान रखा जा रहा। वायरस संक्रमण को लेकर करेंसी आदान-प्रदान पर भी चिंता जताई जा रही। उनके संक्रमित होने की आशंका को देखते हुए इंडियन बैंक एसोसिएशन की ओर से कुछ गाइडलाइन जारी की गई है।

इसके मद्देनजर जिले के कई बैंकों और एटीएम को सैनिटाइज किया जा रहा। सैनिटाइज्ड नोट लिए और दिए जा रहे। बैंकों की विभिन्न शाखाओं में सैनिटाइजर उपलब्ध करा दिए गए हैं। बैंककर्मियों को मेडिकेटेड मास्क भी दिए गए हैं।

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के क्षेत्रीय प्रबंधक नवीन कुमार बताते हैं कि वायरस संक्रमण से निपटने के लिए हमलोगों ने भीड़ को नियंत्रित करने की कोशिश की है। क्योंकि, जितने कम लोग होंगे, वायरस का चक्र टूटेगा। इसलिए, कुछ सर्विस को शॉर्ट तो कुछ को स्थगित किया गया है। समस्तीपुर में एसबीआइ की 35, वैशाली में 16 के अलावा एक क्षेत्रीय शाखा भी है, जहां कोरोना वायरस से निपटने की पूरी तैयारी है।

हर काउंटर पर सैनिटाइजर

बैंक शाखा के हर काउंटर पर एक-एक सैनिटाइजर रखा गया है। वहां आने-जानेवाले ग्राहकों को पहले गेट पर सैनिटाइज किया जाता है। अगर, वे कैश जमा करते हैं तो उनके नोट को पहले सैनिटाइज किया जाता है, तभी काउंटर में रखा जाता।

krishna hospital samastipur bihar

इसके अलावा निकासी करने पर हम उन्हें सैनिटाइज्ड नोट ही देते हैं। पासबुक सेक्शन को अभी कुछ दिनों के लिए नार्मल किया गया है। क्योंकि, वहां सबसे ज्यादा ग्राहक पहुंचते हैं।

70 फीसद कम हुए ग्राहक :

जब से संक्रमण का दौर आया है, ग्राहकों की संख्या स्वत: कम हुई है। जमा और निकासी को छोड़कर अन्य काम को संक्षिप्त करने के कारण ग्राहक खुद को सीमित कर लिए हैं। एक अनुमान के अनुसार विभिन्न बैंकिंग शाखाओं में करीब 70 फीसद ग्राहक कम हुए हैं। बहुत जरूरी होने पर ही वे पहुंच रहे।

Avinash Roy

Chief in Editor at Samastipur Town Web Portal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *