इंटर की फाइनल परीक्षा तैयारी में जुटेगा विभाग, दिखेंगे कई बदलाव

समस्तीपुर :- इंटरमीडिएट की सेंटअप परीक्षा संचालित हो रही है। अब जिला शिक्षा विभाग फरवरी में होने जा रही इंटर की परीक्षा में जुट जाएगा। कोरोना के बीच होने जा रही परीक्षा को लेकर इस बार कई बदलाव देखने को मिलेंगे। जिला शिक्षा पदाधिकारी बीरेंद्र नारायण ने बताया कि सेंटअप परीक्षा के लिए बनाए गए केंद्रों में कोरोना को देखते हुए सभी केंद्रों पर शारीरिक दूरी का पालन किया गया।

अगले साल इंटर की परीक्षा में करीब 48 हजार छात्र-छात्राएं बैठेंगे। कोविड को लेकर परीक्षा केंद्रों की संख्या भी बढ़ेगी। शहर के पांच केंद्रों को आदर्श परीक्षा केंद्र बनाए जाएंगे। इंटर की परीक्षा में शामिल होने वाले बच्चों का डमी प्रवेश पत्र ऑनलाइन अपलोड कर दिए जाएंगे। हर साल की तरह इस बार भी कदाचार मुक्त परीक्षा को लेकर शिक्षा विभाग पूरी तरह सख्त है।

krishna hospital samastipur bihar

नए नियमों से गुजरना होगा परीक्षार्थियों को :

परीक्षार्थियों को नए नियमों से भी गुजरना होगा। परीक्षा केंद्र के गेट पर सैनिटाइजर की व्यवस्था भी होगी। जिला शिक्षा पदाधिकारी ने बताया कि इंटरमीडिएट की परीक्षा में कोविड नियमों का सख्ती से पालन किया जाएगा। उन्होंने बताया कि स्कूलों के ज्यादातर शिक्षक और प्राचार्य की ड्यूटी चुनाव में लगी थी, चुनाव समाप्त होने के बाद शिक्षक लौट गए हैं। परीक्षा में शामिल होने वाले सभी परीक्षार्थियों को मास्क लगाकर आएंगे, थर्मल स्क्रीनिग भी होगी।

डीईओ ने बताया कि वर्ष 2020 में 67 केंद्रों पर इंटरमीडिएट परीक्षा हुई थी। इसमें समस्तीपुर अनुमंडल मुख्यालय में 48 केंद्र बनाए गए थे। जिसमें लड़कों के लिए 33 एवं लड़कियों के लिए 15 केंद्र थे। इसी तरह रोसड़ा में नौ, दलसिंहसराय में चार एवं शाहपुर पटोरी में छह परीक्षा केंद्र बनाए गए थे। इस बार कोरोना को लेकर केंद्रों की संख्या बढ़ेगी। ताकि परीक्षा के दौरान शारीरिक दूरी का पालन हो सके।

Avinash Roy

Editor-in-Chief at Samastipur Town Web Portal