15 जुलाई से खुल सकते हैं CBSE के स्कूल, जानिये कैसे संचालित होंगे स्कूल और क्लास

कोरोना संकट के कारण मार्च से ही बंद पडे सीबीएसई के स्कूल 15 जुलाई से खुल सकते हैं. केंद्र सरकार और सीबीएसई बोर्ड स्कूलों को खोलने को लेकर माथापच्ची कर रहा है. नियम, कायदे बनाये जा रहे हैं जिससे स्कूलों को खोला जा सके.

स्कूल खोलने पर सरकार की माथापच्ची
दरअसल पिछले 15 दिनों से केंद्र सरकार और सीबीएसई बोर्ड स्कूलों को खोलने पर माथापच्ची कर रहा है. सरकार उस गाइडलाइंस को अंतिम रूप देने में लगी है जिसके आधार पर स्कूलों का संचालन हो सकेगा. सीबीएसई बोर्ड के सूत्रों ने बताया कि 15 जुलाई से स्कूलों को खोलने पर सहमति बनती दिख रही है. हालांकि स्कूलों को चलाने के लिए संचालकों को कई नियमों का पालन करना होगा.

जानिये क्या होंगे स्कूलों को खोलने के कायदे-कानून
सीबीएसइ के सूत्रों के मुताबिक वैसे जिले जो ग्रीन जोन में हैं वहां स्कूलों को खोलने की अनुमति दी जायेगी. हालांकि स्कूलों को खोलने से पहले  जिला प्रशासन से इसकी अनुमति लेनी होगी. अनुमति मिलने पर ही स्टूडेंट्स को ऑड-इवन पैटर्न पर स्कूल जाने की अनुमति दी जायेगी.

krishna hospital samastipur bihar

ऑड-इवन पैटर्न का निर्धारण स्टूडेंट्स के रौल नंबर से होगा. इसके आधार पर आधे बच्चे एक दिन स्कूल आयेंगे तो बाकी बचे बच्चे दूसरे दिन. यानि एक स्टूडेंट हफ्ते में तीन दिन ही स्कूल आयेगा. बाकी के तीन दिन स्टूडेंट्स को घर पर रहकर ऑनलाइन क्लास से जुड़ना होगा. इसे स्मार्ट क्लास की मदद से पूरा किया जायेगा.

सरकार को इस बात की भी फिक्र है कि स्कूल बंद होने के कारण बच्चों का सिलेबस अटक गया है. लिहाजा स्कूल खुलने के बाद स्टूडेंट्स के सिलेबस को समय पर पूरा कराने की तैयारी होगी. ऐसे में शनिवार को हाफ डे स्कूल को फुल डे कर दिया जायेगा. वहीं, पहली से 12वीं तक के सिलेबस को कम समय में पूरा कराने पर मंथन चल रहा है.

स्कूलों में नहीं होगा प्रेयर
सभी स्कूलों में होने वाले प्रेयर को बंद कर दिया जायेगा. स्कूल खुलने के बाद कई और बदलाव नजर आयेंगे. स्टूडेंट्स को सैनिटाइजर साथ लाना होगा. मास्क भी पहनना जरूरी होगा. स्कूलों में कैंटीन को भी बंद रखा जाया. बच्चों को घर से लंच लाना होगा. स्कूल बस में एक सीट पर एक स्टूडेंट ही बैठेगा. स्कूल में खेल-कूद की गतिविधियों पर भी रोक लगी रहेगी.

Avinash Roy

Editor-in-Chief at Samastipur Town Web Portal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *