बिहार में कोरोना की दूसरी लहर ने तोड़े सारे रिकार्ड, पटना ही नहीं, इन जिलों में भी बढ़ा खतरा, सावधानी जरूरी

बिहार में कोरोना वायरस की दूसरी लहर दिन प्रतिदिन खतरनाक होती जा रही है. बुधवार को एक दिन का रिकॉर्ड मामला दर्ज हुआ. बिहार में अप्रैल माह में सबसे 1527 नये पॉजिटिव केस पाये गये हैं. इसके साथ ही राज्य में अब कोरोना के कुल 5925 एक्टिव मामले हो गए हैं. इससे पहले मंगलवार को भी आंकड़ा एक हजार से उपर का था. बिहार में कोरोना के मामले सबसे ज्यादा राजधानी पटना से सामने आए हैं. हालांकि अब खतरा कई अन्य जिलों में भी गहरा गया है. इधर, जांच की संख्या भी बढ़ गयी है. पिछले 24 घंटे में राज्य में 85,050 सैंपलों की जांच की गयी.

पटना जिला सर्वाधिक नये पॉजिटिव के साथ राज्य टॉप पर बना हुआ है. पटना में बुधवार को 522 नये संक्रमित पाये गये, जबकि दूसरे स्थान पर गया में 128 नये पॉजिटिव मिले. स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार राज्य के सभी जिलों में कोरोना के नये केस पाये गये हैं.

भागलपुर जिले में 78, मुजफ्फरपुर में 74, जहानाबाद में 68, भोजपुर में 39, रोहतास में 34, अरवल व सारण में 33-33, मुंगेर व सीवान में 32-32, औरंगाबाद व गोपालगंज में 31-31, वैशाली व पश्चिम चंपारण में 28-28, बेगूसराय में 27,पूर्णिया में 23, नालंदा में 22, मधेपुरा में 21, पूर्वी चंपारण में 19, मधुबनी में 18, शेखपुरा में 17, दरभंगा व लखीसराय में 14-14, कैमूर व समस्तीपुर में 13-13, जमुई व खगड़िया में नौ-नौ, बांका व सुपौल में आठ-आठ, अररिया व किशनगंज में छह-छह, बक्सर, कटिहार व शिवहर में तीन-तीन नये कोरोना पॉजिटिव पाये गये. इसके अलावा दूसरे राज्यों के 15 लोगों के सैंपल भी यहां जांच में पॉजिटिव पाये गये.

अप्रैल में इस तरह आए कोरोना केस :

तिथि —- —-नये पॉजिटिव —— एक्टिव केस

एक अप्रैल- 488- 1907

दो अप्रैल- 662- 2363

तीन अप्रैल- 836- 2942

चार अप्रैल- 864- 3560

पांच अप्रैल-935- 4143

छह अप्रैल- 1080- 4954

सात अप्रैल- 1527- 5925

Avinash Roy

Editor-in-Chief at Samastipur Town Web Portal