चिराग पासवान ने गंगा किनारे किया पिंडदान, पिता को याद कर हुए इमोशनल

अपने पिता को खोने का गम झेल रहे चिराग पासवान हर परंपरा का निर्वहन करते वक्त इमोशनल हो जा रहे हैं. आज चिराग पासवान गंगा घाट पर पिता का पिंडदान करने पहुंचे. इस दौरान परिवार के सारे लोग साथ थे. उनके चचेरे भाई प्रिंस राज, कृष्णराज सहित अन्य लोग साथ थे. सभी चिराग के साथ चल रहे थे और उनका ढांढस बढ़ा रहे थे.

चिराग पासवान ने भारतीय परंपरा का निर्वहन करते हुए गंगा किनारे पिता का पिंडदान किया. पिंडदान के रस्मों के दौरान कई बार चिराग इमोशनल हो गए और उनकी आंखों में आंसू छलक आए. चिराग को इमोशनल होता देख परिवार के दूसरे लोगों ने उन्हें हिम्मत दी और फिर पूरे रिति रिवाज के साथ गंगा किनारे पिंडदान किया गया.

बता दें कि 8 अक्टूबर को रामविलास पासवान का निधन इलाज के दौरान अस्पताल में हो गया था. राष्ट्रीय सम्मान के साथ 10 अक्टूबर की शाम पटना के दीघा स्थित जर्नादन घाट पर उनका अंतिम संस्कार किया गया.

अंतिम संस्कार के दौरान भी चिराग कई बार रोते नजर आए. मुखाग्नि देने के वक्त को चिराग पासवान बेहोश हो गए थे. जिसके बाद परिवार के लोगों ने उन्हे संभाला. चिराग पासवान अपने पिता रामविलास पासवान का श्राद्ध कर्म करने के बाद 21 अक्टूबर से चुनावी दौरे पर निकलेंगे.

Avinash Roy

Editor-in-Chief at Samastipur Town Web Portal