समस्तीपुर मंडल : कल से 298 किमी की दूरी सिमटकर महज 22 किमी रह जाएगी

पीएम नरेंद्र मोदी फ्राइडे को सौगातों की चौथी किस्त में रेलवे से जुड़ी परियोजनाएं जनता को सौंपेंगे। करीब 86 वर्ष पुरानी मांग कल पूरी हो जाएगी। कोसी महासेतु से ट्रेनों का परिचालन शुरू होते ही निर्मली से सरायगढ़ की दूरी 298 से घटकर महज 22 किलोमीटर रह जाएगी। अभी निर्मली से सरायगढ़ तक जाने में लोगों को दरभंगा-समस्तीपुर-खगडि़या-मानसी-सहरसा होते हुए 298 किमी की दूरी तय करनी होती है। करीब दो किलोमीटर लंबे इस कोसी महासेतु का निर्माण-कार्य छह जून, 2003 को शुरू हुआ था। पिछले तीन आयोजनों की तरह फ्राइडे को वर्चुअल प्रोग्राम होगा। दिल्ली से पीएम नरेंद्र मोदी, रेल मंत्री पीयूष गोयल आदि होंगे। जबकि पटना से सीएम नीतीश कुमार और डिप्टी सीएम सुशील मोदी समेत अन्य समारोह स्थल पर अन्य दिग्गज होंगे।

86 साल का इंतजार होगा खत्म

कोसी नदी पर महासेतु का उद्घाटन सबसे अहम कार्यक्रम होगा। इस महासेतु के मार्फत कोसी और मिथिलांचल रेलवे के नेटवर्क पर एक-दूसरे से जुड़ जाएंगे। इस क्षेत्र की जनता की यह 86 साल पुरानी मांग है। सपना अब साकार हो रहा है। इसके साथ ही सरायगढ़ से आसनपुर कुपहा के बीच ट्रेन को हरी झंडी दिखाई जाएगी। करीब दो किलोमीटर लंबे कोसी महासेतु का निर्माण-कार्य छह जून, 2003 को शुरू हुआ था।

नई रेल लाइन से सफर होगा सुगम हाजीपुर से वैशाली आने-जाने वाले लोगों को अभी काफी परेशानी झेलनी पड़ती है। इन लोगों को या तो निजी वाहन से आना-जाना होता है या फिर सार्वजनिक परिवहन के लिए काफी मशक्कत करनी होती है। हाजीपुर-वैशाली-सुगौली नई रेल लाइन पूर्व-मध्य रेलवे की योजना है। फिलहाल हाजीपुर से वैशाली तक रेल लाइन के साथ ही पांच रेलवे स्टेशन भी बन कर तैयार हैं। इस रेलवे लाइन के चालू होने के बाद वैशाली से हाजीपुर आने-जाने वाले लोगों को काफी सहूलियत होगी।

इस्लामपुर-नटेसर रेलखंड पर ट्रेनों का परिचालन

इस्लामपुर-तिलैया नई रेल लाइन पूर्व-मध्य रेलवे के दानापुर मंडल के अंतर्गत आती है। योजना के तहत इस्लामपुर-नटेसर के बीच रेलवे लाइन के साथ-साथ विद्युतीकरण कार्य पूरा कर लिया गया है। रेलवे लाइन बनने के बाद ट्रेन का सफल परिचालन भी किया गया, लेकिन उद्घाटन के इंतजार में नियमित परिचालन रुका था। इसके अलावा मुजफ्फरपुर-सीतामढ़ी लाइन, कटिहार-जलपाईगुड़ी लाइन, शिवनारायणपुर-भागलपुर लाइन, समस्तीपुर-दरभंगा-जयनगर लाइन, समस्तीपुर-खगडि़या लाइन और लोको शेड बरौनी का उद्घाटन भी होना है।

-2003 में कोसी महासेतु का निर्माण-कार्य का शिलान्यास छह जून को तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने किया था।

-516 करोड़ रुपए खर्च हुए हैं कोसी महासेतु के निर्माण पर।

-86 वर्ष पहले ही कोसी की जनता ने की थी मांग

-298 से घटकर महज 22 किलोमीटर रह जाएगी निर्मली से सरायगढ़ की दूरी।

Avinash Roy

Editor-in-Chief at Samastipur Town Web Portal