बिहार: दहेज में बाइक नहीं मिली तो मंडप छोड़कर भागा दूल्हा, दुल्हन ने कहा- नहीं चाहिए ऐसा पति

नालंदा जिले से एक अजब मामला सामने आया है। शनिवार को यहां एक बारात आई। खूब नाच-गाना हुआ, बारात दरवाजे पर आ भी गई। इसके बाद दूल्हे का स्वागत करके उसे जनवासे में विदा किया गया। अब दूल्हे को मंडप में आना था लेकिन बारातियों को जनवासे में ही छोड़कर दूल्हा भाग गया।

दहेज में बाइक न मिली तो भाग गया दूल्हा

शनिवार को चंडी थाना इलाके से सुहावन दास अपने बेटे विजेंद्र की बारात लेकर बिहारशरीफ आया। अबतक सबकुछ ठीक-ठाक चल रहा था। बारात दरवाजे पर पहुंची, समधी मिलन भी हुआ। इसके बाद दूल्हे और दुल्हन ने एक दूसरे को वरमाला भी पहना दी। इसके बाद सभी लोग जनवासे में चले गए। तभी दुल्हन के घरवालों को खबर मिली कि दूल्हा तो भाग गया। आरोप है कि दूल्हे ने दहेज में बाइक मांगी थी जिसकी मांग पूरा करने में लड़की पक्ष असर्मथ था। इसी से नाराज होकर दूल्हा बीच शादी से ही फरार हो गया।

दबाव में वापस लौटे दूल्हे की पिटाई, घरवाले बनाए गए बंधक

दुल्हे के भाग जाने से दुल्हन के घर के लोग और गांव वाले बेहद गुस्से में आ गए। भड़के लोगों ने दूल्हे के पिता समेत 5 लोगों को वहीं बंधक बना लिया। शनिवार को तो शादी नहीं हो पाई लेकिन इसके बाद मामले की खबर टाउन थाने को दे दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने वधु पक्ष की मांग पर बंधक बने घरवालों से दूल्हे को वापस बुलवाने के लिए कहा। रविवार को इस जबरदस्त दबाव के बाद दूल्हे को दुल्हन के घर लौटना पड़ा। दूल्हे को देखते ही लोगों का गुस्सा फूट पड़ा और उसकी जमकर धुनाई कर दी गई।

krishna hospital samastipur bihar

दुल्हन ने ही कर दिया शादी से इनकार

पुलिस फिर मौके पर पहुंची और दूल्हे को लोगों के गुस्से से बचा लिया। इसके बाद पुलिस दोनों पक्षों के लोगों को थाने पर ले आई। लेकिन दुल्हन ने शादी से ही इनकार कर दिया। पुलिस के सामने दुल्हन ने साफ कह दिया कि उसे ऐसा लालची शख्स पति के रूप में मंजूर नहीं है।

आखिर में स्थानीय लोगों और नगर थानेदार की कोशिश के बाद शादी में लगे खर्च और बाकी मुआवजा देने के बाद दूल्हा परिवार के साथ बैंरग वापस लौट गया। नगर थाना अध्यक्ष दीपक कुमार के मुताबिक दुल्हन ने साफगोई से शादी से इनकार करते हुए किसी प्रकार की शिकायत दर्ज नहीं कराई है।

Avinash Roy

Editor-in-Chief at Samastipur Town Web Portal