कल नौ ट्रेनों से बिहार आएंगे श्रमिक, रोज आठ-दस गाड़ियां बिहार के लिए चलाने की कोशिश

बिहार के लोगों को लेकर केरल से दो ट्रेनें सोमवार को करीब 2500 लोगों को लेकर दानापुर रेलवे स्टेशन पहुंची। दानापुर पहुंचने के बाद स्टेशन के पास बने कैंप में सभी यात्रियों का हेल्थ चेकअप किया गया। आपदा प्रबंधन विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने कहा कि मंगलवार से पंजाब और हरियाणा से भी बिहार के लिए ट्रेनें खुलने की संभावना है। दोनों राज्य सरकारों से बातचीत हुई है। मंगलवार को कोटा, कर्नाटक और केरल आदि जगहों से नौ ट्रेनें बिहार पहुंचेंगी।

सोमवार को पटना में प्रेस कांफ्रेंस में उन्होंने कहा कि हमलोगों का प्रयास है कि प्रतिदिन आठ-दस ट्रेनें विभिन्न राज्यों से बिहार के लिए जरूर खुले। कहा कि बाहर से आ रहे लोगों के लिए अभी-तक 2450 क्वारनटाइन कैंप तैयार कर लिए गए हैं। अभी इन कैंपों में 8968 लोग रह रहे हैं। इनकी क्षमता बढ़ाई जा रही है। यहां पर सभी को स्टील के बर्तन में भोजन परोसा जा रहा है। तीन समय का भोजन के साथ दो बार दूध भी दिया जा रहा है। इसके अलावा साबुन, तेल, कपड़े आदि भी उन्हें उपलब्ध कराए गए हैं। कैंपों में सीसीटीवी कैमरे भी लगाए जा रहे हैं।

बस से भेज रहे हैँ घर : 

रेलवे स्टेशन पहुंचने के बाद  चेकअप करने के बाद इन यात्रियों को जिस जिले में जाना था वहां की बस से रवाना कर दिया गया। ट्रेन के दानापुर पहुंचने के पहले पूरे स्टेशन परिसर को सेनेटाइज किया गया। दानापुर स्टेशन पर बड़ी संख्या में पुलिस बल के अलावा रेलवे के बड़े अधिकारी भी मौजूद थे। इससे पहले आज कोटा से भी 997 छात्रों को लेकर ट्रेन गया पहुंची।

कोटा से 994 छात्रों को लेकर गया पहुंची विशेष ट्रेन, छात्रों ने ताली बजाकर जताई खुशी
40 दिन से कोटा में फंसे बिहार के 994 छात्र सोमवार की दोपहर गया पहुंच गए। कोटा से रविवार की रात नौ बजे खुली ट्रेन से सभी को यहां लाया गया। गया जंक्शन पहुंचने वालों में गया के 364, नवादा के 259, औरंगाबाद के 241, जहानाबाद के 93 और अरवल के 37 छात्र-छात्राएं शामिल हैं। ट्रेन के गया जंक्शन पहुंचते ही ट्रेन से छात्रों ने ताजी बजाकर अपनी खुशी का इजहार किया।

Avinash Roy

Editor-in-Chief at Samastipur Town Web Portal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *